window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

अमित शाह ने ‘तीन P’ का जिक्र कर SP पर साधा निशाना, अखिलेश ने किया पलटवार

यूपी तक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और समाजवादी पार्टी (एसपी) के बीच वार-पलटवार का सिलसिला जारी है. इसी क्रम में एसपी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी नेता अमित शाह के एक बयान पर पलटवार किया है.

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, “बीजेपी के शासनकाल में 3P हैं, पाखंड, प्रताड़ना और प्राणघातक ….”

बता दें कि अमित शाह ने रविवार, 26 दिसंबर को कहा था, “एसपी सरकार में उत्तर प्रदेश में तीन P अर्थात् परिवारवाद, पक्षपात और पलायन का बोलबाला था.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में योगी आदित्यनाथ की सरकार में परिवारवाद, पक्षपात और पलायन की राजनीति का अंत हुआ है और विकासवाद की राजनीति प्रतिष्ठित हुई है.

उरई में आयोजित बीजेपी की ‘जनविश्वास यात्रा’ में केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, “पश्चिमी यूपी में लोग परेशानी से, गुंडों के डर से पलायन करते थे…आज किसी भी माफिया की हिम्मत है क्या आपको परेशान करने की? पलायन करने वाले पलायन कर गए हैं. यहां कानून का राज स्थापित हुआ. किसी की हिम्मत नहीं है मां-बहन की मजाक-मसखरी करने की. यहां पर सभी गुडों को समाप्त करने का काम बीजेपी की योगी सरकार ने किया है.”

इससे पहले 26 दिसंबर को ही शाह ने कासंगज में बीजेपी की ‘जनविश्वास यात्रा’ के दौरान एक जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान भी उन्होंने विपक्ष को जमकर निशाने पर लिया था.

उन्होंने कहा था, “यूपी में बुआ-बबुआ ने सरकारें चलाईं, क्या ये सभी का विकास कर पाईं? एसपी के राज में आपका भला होता था क्या? बीएसपी के राज में विकास होता था क्या? वो नहीं करते सकते, ये जातिवादी पार्टियां हैं, परिवारवादी पार्टियां हैं.”

ADVERTISEMENT

अमित शाह ने एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव को निशाने पर लेते हुए कहा था,

“अखिलेश जी क्या देखकर वोट मांगने निकले हो? आपको यूपी की जनता जानती है, आपके पांच वर्ष में 700 से ज्यादा दंगे हुए थे. योगी जी के शासन में साढ़े चार साल में किसी की हिम्मत नहीं हुई कि एक भी दंगा करे.”

अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री

ADVERTISEMENT

उन्होंने कहा था, “जिस उत्तर प्रदेश में पहले दंगे होते थे, आज उसी उत्तर प्रदेश में यूनिवर्सिटी, मेडिकल कॉलेज, हवाई अड्डे बन रह हैं. उद्योगों का जाल बिछ गया है और प्रदेश गुंडाराज से मुक्त हो गया है.”

कासगंज में विपक्ष पर बरसे अमित शाह, बोले- ‘अखिलेश जी क्या देखकर वोट मांगने निकले हो?’

follow whatsapp

ADVERTISEMENT