SP गठबंधन को लेकर केशव मौर्य का तंज, बोले- 'अखिलेश प्राइवेट लिमिटेड कंपनी चला रहे'

SP गठबंधन को लेकर केशव मौर्य का तंज, बोले- 'अखिलेश प्राइवेट लिमिटेड कंपनी चला रहे'
एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और डिप्टी सीएम केशव मौर्यफोटो: मनीष अग्निहोत्री/ इंडिया टुडे

भारतीय जनता पार्टी के नौ प्रत्याशियों ने विधान परिषद चुनाव के लिए गुरुवार को नामांकन पत्र दाखिल किया. बीजेपी ने बुधवार को विधान परिषद चुनाव के लिए नौ प्रत्याशियों की घोषणा की थी. समाजवादी पार्टी के चार प्रत्याशी बुधवार को ही अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं. बता दें कि प्रत्याशियों के नामांकन के बाद प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने यूपी तक से खास बातचीत की. इस दौरान मौर्य ने समाजवादी पार्टी और उसके मुखिया अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा.

डिप्टी सीएम ने कहा,

"बीजेपी का गठबंधन पवित्र है. एसपी का गठबंधन ठगबंधन है, जो कभी स्थाई नहीं रहता न कभी ज्यादा चलता. अखिलेश यादव प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की तरह एसपी को चलाते हैं. वह जो भी करें लेकिन एसपी डूबता जहाज है, जिसमें सब डूबेंगे."

केशव प्रासाद मौर्य

उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव, लोकसभा उप चुनाव और विधान परिषद में टिकट को लेकर पार्टी में कहीं न कहीं असंतोष का सामना कर रहे अखिलेश यादव के तमाम समीकरणों के बावजूद गठबंधन में भारी असंतोष के बादल छाने लगे हैं. बता दें कि बुधवार को महान दल के मुखिया केशव देव मौर्य ने गठबंधन तोड़ने का ऐलान किया था. वहीं, दूसरी तरफ बेटे अरविंद राजभर को विधान परिषद का टिकट नहीं देने पर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओम प्रकाश राजभर ने भी अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है.

बता दें कि गुरुवार को नामांकन करने वालों में केशव प्रसाद मौर्य, चौधरी भूपेंद्र सिंह, दयाशंकर मिश्र दयालु, जेपीएस राठौर, जसवंत सैनी, दानिश आजाद अंसारी, बनवारी लाल दोहरे और मुकेश शर्मा शामिल हैं.

कानपुर हिंसा पर क्या बोले मौर्य?

कानपुर हिंसा पर डिप्टी सीएम मौर्य ने कहा, "पुलिस अपना काम कर रही है और अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा. जो भी अवैध निर्माण होगा वह गिराया जाएगा. एसपी अपराधियों को बचाने का काम रही है. एसपी अपराधी, दंगाइयों के साथ पुरानी रिश्तेदारी रखती रही है.

एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और डिप्टी सीएम केशव मौर्य
कानपुर हिंसा: विशाख अय्यर को क्यों बनाया गया 5 महीने बाद दोबारा DM? यहां जानिए

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in