यूपी एमएलसी उपचुनाव: जानें कौन हैं डॉ. धर्मेंद्र सिंह, जिन्हें BJP ने बनाया MLC कैंडिडेट

डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार.
डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार.फोटो: गजेंद्र त्रिपाठी, यूपी तक

यूपी विधान परिषद उपचुनाव (UP Legislative Council by-election) के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के गृह जनपद गोरखपुर से डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार (Dr. Dharmendra Singh Sainthwa) को प्रत्याशी बनाया है, जबकि प्रयागराज से निर्मला पासवान को टिकट मिला है. बता दें कि यूपी विधान परिषद की दो सीटों पर 11 अगस्त को होने वाले उपचुनाव के लिए सोमवार को बीजेपी के दोनों प्रत्याशियों ने अपना-अपना नामाकांन दाखिल किया.

कौन हैं डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार?

डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार के पास 31 सालों का राजनीतिक अनुभव है. वह साल 1991 से 1998 तक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) में रहे थे, जहां उन्होंने अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन किया. इस दौरान वह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश मंत्री भी रहे.

डॉ. धर्मेन्द्र सिंह साल 2001 से 2009 तक गोरखपुर में बीजेपी के महामंत्री के पद पर भी रहे और साल 2010 से 2016 तक महानगर अध्यक्ष के पद पर रहे . साल 2016 में वह क्षेत्रीय टीम का हिस्सा बने और वहां उन्होंने मिले दायित्वों को बखूबी निभाया.

फरवरी 2018 में गोरखपुर से तत्कालीन क्षेत्रीय अध्यक्ष उपेंद्र दत्त शुक्ल को लोकसभा चुनाव का प्रत्याशी बनाया गया, तो उन्होंने क्षेत्रीय अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया. क्षेत्रीय अध्यक्ष का पद खाली होते ही डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार को इस पद की जिम्मेदारी दी गई. और डॉ. धर्मेंद्र सिंह साल 2018 से ही लगातार क्षेत्रीय अध्यक्ष के पद पर बने हुए हैं.

वहीं बीजेपी की तरफ से उपचुनाव में एमएलसी उम्मीदवार बनाए जाने पर डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार ने केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार का आभार प्रकट किया है.

डॉ. धर्मेंद्र सिंह सैंथवार.
MLC उपचुनाव: निर्मला पासवान को BJP ने क्यों बनाया प्रत्याशी? यहां जानिए इनसाइड स्टोरी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in