अखिलेश यादव पर तंज कस केशव मौर्य बोले- 'अब आप पूर्व मुख्यमंत्री हो, इसके सिवा कुछ नहीं'

एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और डिप्टी सीएम केशव मौर्य.
एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और डिप्टी सीएम केशव मौर्य.फोटो: मनीष अग्निहोत्री/ इंडिया टुडे

उत्तर प्रदेश (UP News) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Aditynath) ने सोमवार को अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती 100 दिनों का ‘रिपोर्ट कार्ड’ पेश किया था. सीएम योगी द्वारा रिपोर्ट कार्ड पेश करने के बाद अब उनके मंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी विभागीय उपलब्धियां गिना रहे हैं. इसी क्रम में बुधवार को सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने लखनऊ में एक प्रेस वार्ता की. इस दौरान उपमुख्यमंत्री मौर्य ने विभागीय 'उपलब्धियां' गिनाने के साथ सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर तीखा प्रहार किया और डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक (Brajesh Pathak) द्वारा ACS अमित मोहन को लिखे गए पत्र पर अपनी प्रतिक्रिया दी.

ब्रजेश पाठक के ACS को लिखे पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए उपमुख्यमंत्री मौर्य ने कहा, "ब्रजेश पाठक जी, हमारे उपमुख्यमंत्री हैं, जिनके बारे में आपने सवाल पूछा है, मैं स्पष्ट कहूंगा...विभागीय मंत्री के नाते उनको अधिकार है, उनको ही नहीं किसी भी जनप्रतिनिधि को अधिकार है सवाल करने का. अगर कोई गड़बड़ी करेगा तो कार्रवाई होगी."

गौरतलब है कि प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने स्वास्थ्य विभाग में हाल में हुए तबादलों पर आपत्ति दर्ज करते हुए इस सिलसिले में सोमवार को विभाग के अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखते हुए नाराजगी जताई थी और कहा था कि तबादलों में नियमों का पालन नहीं किया गया.

सपा मुखिया अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा,

"श्री अखिलेश यादव जी सवाल उठाते हैं, उनके शासनकाल के समय से लेकर के 2022 तक वह 4 बार चुनाव हार चुके हैं. मैंने उनको सदन में भी यही बात कही कि अब आप मुख्यमंत्री नहीं हो, अब पूर्व मुख्यमंत्री हो और पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र हो, इसके सिवा आप कुछ नहीं हो. ग्राम विकास हो या नगर विकास हो, युवाओं-महिलाओं-किसानों की दृष्टि से जितना अच्छा काम देश में मोदी जी और प्रदेश में योगी जी के नेतृत्व में हम कर रहे हैं, ऐसा काम अगर अखिलेश जी किए होते तो 400 सीटों का दावा करने वाले सिमट कर नहीं रह जाते."

केशव प्रसाद मौर्य

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में राज्य के मौजूदा उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक द्वारा स्वास्थ्य विभाग में किए गए तबादलों पर सवाल उठाए जाने का जिक्र करते हुए कहा था, "उपमुख्यमंत्री लखनऊ छोड़कर गए और वापस आए तो उन्हें पता लगा कि उनसे पूछे बगैर स्वास्थ्य विभाग में तबादले कर दिए गए. यह वही उपमुख्यमंत्री हैं जिन्होंने सरकारी अस्पताल में सबसे ज्यादा छापेमारी की लेकिन तमाम कमियां मिलने के बावजूद अगर उन्होंने किसी पर भी कार्यवाही की हो, तो बता दीजिए. इसका मतलब यह है कि सरकार को कोई पीछे से चला रहा है."

इस सवाल पर कि आखिर पीछे से कौन सरकार चला रहा है, यादव ने कहा, "उपमुख्यमंत्री का जो पत्र आया है कि किसके कहने से तबादले हुए हैं, लगता है सरकार में कुछ ऐसी ताकतें हैं जो पीछे से ऑपरेट कर रही हैं."

एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और डिप्टी सीएम केशव मौर्य.
ओम प्रकाश राजभर के इस बात पर अखिलेश बोले- सपा को किसी की सलाह की जरूरत नहीं

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in