window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

तीसरे चरण के बाद ही अनुप्रिया जान गईं थी कि UP में मिलेगी हार? Apna Dal चीफ ने गिनाईं ये वजहें

यूपी तक

ADVERTISEMENT

अपना दल (एस) राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल.
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

अनुप्रिया पटेल ने 2024 के आम चुनाव में मिर्जापुर से जीत हासिल की. पर जीत का अंतर कम रहा.

point

अनुप्रिया ने कहा उन्हें तीसरे फेज के बाद ही गड़बड़ी का अंदेशा हो गया था.

point

हार के पीछे अनुप्रिया ने अयोध्या के पूर्व सांसद लल्लू सिंह को भी वजह बताया है.

Anupriya Patel News: केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल और उनकी पार्टी अपना दल (S) साल 2014 से ही भाजपा के नेतृत्व वाले NDA का हिस्सा हैं. 2024 का लोकसभा चुनाव भी अनुप्रिया पटेल ने NDA के साथ मिलकर लड़ा. बता दें कि अनुप्रिया पटेल ने 2024 के आम चुनाव में मिर्जापुर से जीत हासिल की. मगर इस बार उनकी जीत का अंतर कम रहा. अपना दल (S) इस बार सिर्फ मिर्जापुर की सीट ही जीत पाई. वहीं, इस बीच हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए अनुप्रिया पटेल ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि उनकी पार्टी ने तीसरे चरण में ही अनुमान लगा लिए था कि यूपी में सत्तारूढ़ गठबंधन के लिए सब कुछ ठीक नहीं है. खबर में आगे जानिए अनुप्रिया ने और क्या-क्या कहा?

यूपी के नतीजों को लेकर अनुप्रिया ने ये कहा

 

अनुप्रिया पटेल ने कहा कि यूपी में नतीजे उनकी उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहे. बकौल अनुप्रिया, शुरुआत में सब कुछ ठीक-ठाक था, लोग केंद्र सरकार के काम से खुश थे. उन्होंने कहा कि तीसरे चरण के बाद सातवें चरण तक उन्हें गड़बड़ी के संकेत मिलने लगे थे. अनुप्रिया ने कहा कि विपक्ष ने संविधान बदलने की जो अफवाह फैलाई, उसका उसे फायदा मिला. अपना दल (एस) चीफ के मुताबिक, ये सब बातें वायरल होती रहीं और विपक्ष को मौका मिल गया क्योंकि उनके पास और कुछ नहीं था. अगर लोग विपक्ष के भाषणों को सुनें, तो पाएंगे कि उनके पास लोगों को देने के लिए कुछ भी नहीं था, लेकिन यह एक गलती थी जो हुई. 

 

 

यह अफवाह समय के साथ और बड़ी हुई: अनुप्रिया

अनुप्रिया पटेल ने कहा, "यह एक बड़ी अफवाह थी और समय के साथ-साथ यह और भी बड़ी होती गई. क्योंकि हम चुनाव के अंतिम चरण की ओर बढ़ रहे थे. यह चुनाव भी लंबा खिंच गया था. इसलिए इसे और समय मिल गया और इससे वास्तव में फर्क पड़ा."

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

अनुप्रिया ने लल्लू सिंह पर बोला हमला

 

आपको बता दें कि अनुप्रिया पटेल ने खराब प्रदर्शन के लिए विपक्ष को जिम्मेदार ठहराया, जो मतदाताओं को यह समझाने में कामयाब रहा कि सरकार लोकसभा में 400 से अधिक सांसदों के साथ लगातार तीसरी बार जीतने के बाद संविधान को बदल देगी. पटेल ने उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ गठबंधन के खराब प्रदर्शन में योगदान देने के लिए फैजाबाद से भाजपा के पूर्व सांसद लल्लू सिंह को भी जिम्मेदार ठहराया है.

 

 

देश की जनता का मोदी जी के नेतृत्व पर भरोसा कायम: पटेल

अनुप्रिया पटेल ने कहा, "मैं तो यही कहूंगी कि देश के आम मतदाता का मोदी जी के नेतृत्व और एनडीए पर भरोसा कायम है. इसलिए तीसरी बार हमें जनता की सेवा करने का मौका मिला है. जैसा कि प्रधानमंत्री जी ने सदन में कहा है कि यह तीसरा कार्यकाल है, इसलिए हम तीन गुना तेजी से काम करेंगे.  पिछले 10 सालों में हमने जो काम किया है, वह तो बस एक शुरुआत है. मेरा मतलब है कि पूरी, बड़ी तस्वीर अभी बाकी है."

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT