शिवपाल पूछे- 'अखिलेश, यशवंत सिन्हा ने नेताजी को ISI एजेंट बताया था, उन्हें समर्थन क्यों?'

शिवपाल यादव और अखिलेश यादव.
शिवपाल यादव और अखिलेश यादव.(फाइल फोटो: @yadavakhilesh/ट्विटर)

18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर यूपी में सियासत जारी है. इस बीच, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने अपने भतीजे और समाजवादी पार्टी चीफ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) को समर्थन दिए जाने पर पुनर्विचार करने को कहा है. शिवपाल ने यह बात अखिलेश को एक पुराने घटना की याद दिलाते हुई कही है.

दरअसल, शिवपाल ने अखिलेश को एक खुला लेटर लिखा है. इस लेटर को खुद शिवपाल ने अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है.

लेटर को शेयर करते हुए उन्होंने ट्वीट कर कहा, "सपा के वर्तमान नेतृत्व ने राष्ट्रपति चुनाव में उस व्यक्ति का समर्थन किया है, जिसने हम सभी के अभिभावक और प्रेरणा व ऊर्जा के स्रोत आदरणीय नेताजी को 'आईएसआई'का एजेंट बताया था.पार्टी नेतृत्व के इस फैसले के विरुद्ध मेरी घोर असहमति है. नेताजी के अपमान की शर्त पर कोई फैसला मंजूर नहीं."
फोटो: शिवपाल यादव के ट्वीट का स्क्रीनशॉट.

लेटर के साथ शिवपाल ने एक पुराने अखबार में पब्लिश हुए यशवंत के बयान का कतरन भी शेयर किया है. इसमें यशवंत सिन्हा का वो बयान है जब उन्होंने बीजेपी में रहते हुए मुलायम सिंह यादव को आईएसआई का एजेंट कहा था.

वहीं अखिलेश को लेटर संबोधित करते हुए शिवपाल ने लिखा है कि यशवंत सिन्हा ने कभी मुलायम सिंह यादव को आईएसआई का एजेंट कहा है और यह बात उन्हें काफी व्यथित करती है. दुर्भाग्य है कि पार्टी को कोई दूसरा नाम नहीं मिला, जिसे वह समर्थन करती.

शिवपाल यादव ने लेटर में लिखा है, "यह कहते हुए मुझे दुख और क्षोभ हो रहा है कि जो समाजवादी कभी नेताजी के अपमान पर आगबबूला हो जाते थे. आज उसी विरासत के लोग नेताजी को अपमानित करने वाले व्यक्ति का राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन कर रहे हैं. ऐसा लगने लगा है कि पार्टी पूरी तरह मजाक का पात्र बनकर रह गई है."

शिवपाल ने लेटर में आगे कहा, "प्रिय अखिलेश जी, मुझे अपनी सीमाएं पता है, आप समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष हैं. ऐसे में मेरा सुझाव है कि उपरोक्त बिंदुओं के आलोक में अपने फैसले पर पुनर्विचार करें."

गौरतलब है कि पिछले दिनों लखनऊ में आयोजित एक मीटिंग में अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा को समर्थन देने की घोषणा की थी. ध्यान देने वाली बात है कि एसपी विधायक शिवपाल यादव पहले ही एनडीए के उम्मीदवार को अपना समर्थन देने का ऐलान कर चुके हैं. बीएसपी ने भी एनडीए के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को सपोर्ट करने की बात कही है. इधर, सपा गठबंधन के सहयोगी दल सुभासपा के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने भी शुक्रवार को एनडीए उम्मीदवार को अपना समर्थन देने का ऐलान कर दिया है.

शिवपाल यादव और अखिलेश यादव.
केशव प्रसाद मौर्य ने मुलायम पर यशवंत सिन्हा के ISI एजेंट वाले बयान को लेकर पूछा ये सवाल

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in