माफिया मुख्तार की करीबी सपा नेता निकहत गाजीपुर में हुई गिरफ्तार, फर्जी तरीके से यहां ली थी नौकरी

विनय कुमार सिंह

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Ghazipur News: गाजीपुर में अपराध और आपराधिक कार्यों में लिप्त सफेदपोशों पर कार्रवाई लगातार जारी है. इस बीच गाजीपुर पुलिस ने नगर पंचायत बहादुरगंज के रसूखदार सपा नेता और चेयरमैन रियाज अंसारी की पूर्व चेयरमैन पत्नी निकहत परवीन को फर्जीवाड़े के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. ये दोनों पति पत्नी 6 बार से चेयरमैन पद पर काबिज हैं और क्षेत्र में काफी रसूखदार माने जाते हैं. इनका कुनबा बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी का करीबी बताया जा रहा है.

मिली जानकारी के अनुसार, ये दंपति कभी बसपा, सपा, तो कभी अंसारियों की कौमी एकता दल में पनी जरूरत के हिसाब से शामिल रहते हैं. फिलहाल ये सपा में हैं. इस बड़ी गिरफ्तारी की सूचना एसपी गाजीपुर ओमवीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी है. उन्होंने बताया कि जिला अल्पसंख्यक विभाग की तरफ से बहादुर गंज नगर पंचायत की पूर्व चेयरमैन निकहत परवीन फर्जी कागजातों के आधार पर मदरसा (मदरसतुल मस्कीन, बहादुरगंज) में सहायक अध्यापक पद पर नौकरी कर रही थी. फर्जी नौकरी की जरिए वह सरकारी कोष से वेतन भी ले रही थी.

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अध्यापिका के पति और वर्तमान चेयरमैन का आईएस 191 गैंग के सरगना मुख्तार अंसारी से काफी करीबी रिश्ता है. इन दोनों की और इनके सहयोगियों की गहन जांच की जा रही है. पूर्व चेयरमैन को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT