window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

‘जितना अच्छा प्लेयर है, उतना अच्छा इंसान भी होता’, मोहम्मद शमी पर हसीन जहां ने चुन-चुनकर कसे तंज

बीएस आर्य

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Mohammad Shami & Hasin Jahan News: वर्ल्ड कप 2023 में न्यूजीलैंड को हराकर भारत फाइनल में पहुंच गया है. मुंबई के वानखड़े स्टेडियम में खेले गए सेमिफाइनल में भारत ने 70 रन्स से जीत हासिल कर ली. भारत की जीत में वैसे तो कई खिलाड़ियों का योगदान रहा, मगर मोहम्मद शमी की गेंदबाजी ने महफिल लूट ली. शमी ने मात्र 57 रन्स देकर 7 विकट झटके. वहीं, इस बीच शमी की पत्नी हसीन जहां से यूपी तक ने अमरोहा में खास बातचीत की है. उन्होंने कहा कि ‘कुछ भी खास महसूस नहीं कर रही हूं, लेकिन हां एक अच्छा फील हो रहा है कि हमारे देश ने सेमीफाइनल मैच जीत लिया है. यह हमारे प्रत्येक देशवासियों के लिए बहुत अच्छी खबर है.’

‘काश उतना अच्छा इंसान भी होता’

मोहम्मद शमी को लेकर कमेंट करते हुए हसीन जहां ने कहा, “कभी-कभी दिल में यह बाते आतीं हैं जितना अच्छा वो प्लेयर है, उतना अच्छा इंसान भी होता. हम अच्छे से जिंदगी जी पाते. मेरी बेटी, मैं और मेरे हस्बैंड एक खुशहाल जिंदगी जी पाते. शमी के लालच और गंदे दिमाग की वजह से हम तीनों को ही फेस करना पड़ रहा है. हालांकि उसे जो भुगतना पड़ रहा है, उसे वो अपने पैसे से शो ऑफ कर छिपाने की कोशिश कर रहा है.”

क्या शमी अपनी बेटी से बात करते हैं?

‘बेबो’ (शमी की बेटी) को लेकर शमी का फोन आता है? इसके जवाब में हसीन जहां ने कहा, “कभी नहीं, कभी नहीं. मेरे से उसकी जो दुश्मनी है वो अपनी जगह है, लेकिन फिर भी यह अहसास होता कि वो पिता के रूप में ठीक है. ये चीजें न मैंने कभी अहसास कीं, न उसने करवाईं. और मेरी बच्ची ने तो कभी अहसास नहीं किया कि उसके फादर हैं. काश वो एक अच्छा प्लेयर होने के साथ-साथ अच्छा इंसान और अच्छा पिता भी होता.”

‘शमी खेल में इस समय बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं’ इस पर हसीन ने कहा, “अच्छी बात है. प्रदर्शन करना एक अच्छी बात होती है. प्रोफेशनल लाइफ में वह अच्छा कर रहा है, पर्सनल लाइफ में उसने बहुत बुरा किया है. जरूरी थोड़ी ना है कि वह अभी बहुत अच्छा परफॉर्म कर रहा है तो लाइफ टाइम बहुत अच्छा परफॉर्म करेगा. हर इंसान का एक अच्छा वक्त आता है.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

 

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT