हिंसा में जिन लोगों को नुकसान हुआ, उसकी भरपाई दंगाइयों से कराई जाएगी: IG रेंज प्रयागराज

हिंसा में जिन लोगों को नुकसान हुआ, उसकी भरपाई दंगाइयों से कराई जाएगी: IG रेंज प्रयागराज
फोटो: पंकज श्रीवास्तव

प्रयागराज में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद पैगंबर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल की टिप्पणी के खिलाफ भड़की हिंसा में कई स्थानीय लोगों के घरों और वाहनों को भी नुकसान पहुंचा था. वहीं, अब स्थानीय लोगों को पहुंचे नुकसान को लेकर IG रेंज प्रयागराज डॉ. राकेश कुमार सिंह ने एक अपील की है.

राकेश कुमार सिंह ने कहा है कि जिन लोगों के घरों और वाहनों को नुकसान पहुंचा है, वे लोग भी थाने में जाकर अपनी एफआईआर दर्ज करा सकते हैं. सिंह ने आगे कहा कि नुकसान की भरपाई दंगाईयों से कराई जाएगी.

यूपी में अब तक क्या कार्रवाई हुई?

बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने आठ जिलों में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद पैगंबर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल की टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के सिलसिले में अब तक कुल 13 प्राथमिकियां दर्ज की हैं और 333 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने सोमवार की शाम यहां जारी एक बयान में बताया, 'राज्य के आठ जिलों से 333 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इस संबंध में नौ जिलों में 13 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं.’

जिलेवार ब्यौरा देते हुए कुमार ने बताया, 'प्रयागराज में 92, सहारनपुर में 81, हाथरस में 51, आंबेडकर नगर में 41, मुरादाबाद में 40, फिरोजाबाद में 17, अलीगढ़ में छह और जालौन में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.'

कुमार ने बताया कि प्रयागराज और सहारनपुर में तीन-तीन प्राथमिकियां तथा फिरोजाबाद, अलीगढ़, हाथरस, मुरादाबाद, आंबेडकरनगर, खीरी और जालौन में एक-एक प्राथमिकी दर्ज की गई है.


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर जिले में तीन जून को हुई हिंसा और उसके बाद विभिन्न जिलों में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद भड़की हिंसा की घटनाओं पर संज्ञान लेकर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिया था कि उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखी जाए.

हिंसा में जिन लोगों को नुकसान हुआ, उसकी भरपाई दंगाइयों से कराई जाएगी: IG रेंज प्रयागराज
प्रयागराज: आरोपी जावेद का घर गिराने पर AIMPLB ने उठाए सवाल, मुस्लिमों से कहा- सबूत जुटाएं

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in