श्रद्धा मर्डर केस के बाद बरेली पुलिस हुए सतर्क, मतांतरण-लव जिहाद को लेकर दिए ये निर्देश

श्रद्धा मर्डर केस के बाद बरेली पुलिस हुए सतर्क, मतांतरण-लव जिहाद को लेकर दिए ये निर्देश
फोटो: कृष्ण गोपाल यादव

Bareilly News: श्रद्धा मर्डर केस (Shraddha Murder Case) इस समय पूरे देश में चर्चा का केंद्र बना हुआ है. श्रद्धा और आफताब की कहानी और इस कहानी के अंत ने समाज को झकझोर कर रख दिया है. इस केस के आने के बाद एक बार फिर कथित लव जिहाद और मतांतरण को लेकर बाते शुरू हो गई है. उत्तर प्रदेश के बरेली जोन में ही कथित लव जिहाद (Love Jihad) के अभी तक कई दर्जन मामले दर्ज हो चुके हैं. अब इसी बीच कथित लव जिहाद और मतांतरण के मामलों पर बरेली जोन के अपर पुलिस महानिदेशक राजकुमार ने अहम आदेश दिए हैं.

अहम बिंदु

बरेली जोन के अपर पुलिस महानिदेशक राजकुमार ने पुलिस को ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई और कोर्ट में जलद पैरवी के आदेश दिए हैं. माना जा रहा है कि उत्तर पुलिस अब ऐसे मामलों को लेकर सख्त हो गई है. मिली जानकारी के अनुसार पुलिस के पास मतांतरण और कथित लव जिहाद के मामले लगातार सामने आ रहे हैं.

बरेली जोन में इस तरह के सैकड़ों केस दर्ज

मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में मतांतरण-धर्मांतरण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. बरेली जोन में ही इस तरह के अनेकों मुकदमें दर्ज हैं. बरेली मुरादाबाद जोन में ही इस तरह के 59 केस दर्ज हैं. इन मामलों में पुलिस अभी तक 115 आरोपियों को अभी तक गिरफ्तार कर चुकी है.

थानों को दिए ये निर्देश

एडीजी ने बरेली-मुरादाबाद जोन के सभी जिलों के थानाध्यक्षों को ऐसे मामलों में फौरन कार्रवाई करने के निर्देश जारी कर दिए हैं. एडीजी राजकुमार ने बताया कि चाहे शादी करने को लेकर या अन्य कारणों को लेकर किया गया इस तरह का अवैध कार्य कानूनन अपराध है. ऐसे मामलों में उत्तर प्रदेश में कानून है और पुलिस का पूरा प्रयास है कि ऐसे मामलों में पूरी तरह से रोक लगाई जाए.

अपर पुलिस महानिदेशक राजकुमार ने बरेली रेंज के 9 जिलों के तमाम एसएसपी और थानाध्यक्षों को ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. इस मामले पर एडीजी राजकुमार ने बताया कि, बरेली- मुरादाबाद मंडल के पीलीभीत, बदायूं, शाहजहांपुर, मुरादाबाद, अमरोहा, संभल, रामपुर और बिजनौर में 27 नवंबर 2020 से 14 नवंबर 2022 तक मतांतरण के करीब 59 मामले दर्ज किए जा चुके हैं. इन मामलों में चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है. अभी 1 या 2 अभियुक्त बचे हुए है. उनकी भी जल्द  गिरफ्तारी की जाएगी.

ऐसे मामले आ चुके हैं सामने

पीलीभीत जिले के जहानाबाद निवासी एक युवक पर आरोप है कि वह अपना नाम और समुदाय छिपाकर और अपना नाम दूसरे समुदाय का रख कर खुद को डॉक्टर बता रहा था. आरोप है कि उसने दूसरे समुदाय की महिला को प्रेम जाल में फंसा लिया. महिला को झांसे में लेकर उसके साथ शारीरिक संबंध भी स्थापित कर लिए और उसकी वीडियो भी बना ली. युवती को 1 साल बाद आरोपी का असली नाम और उसकी सच्चाई पता चली तो वह वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगा. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

"मतांतरण कानून बनने के बरेली जोन में इस तरह के कई मामले दर्ज हो चुके हैं. इन सभी में पुलिस ने ठोस कार्रवाई की है. सबूतों के आधार पर अब तक  44 मामलों में चार्जशीट लगा दी गई है.  मुख्य तौर से जबरन धर्मांतरण चाहे वह शादी या अन्य कारण से किया गया हो, वह कानूनन अपराध है. हमारा पूरा प्रयास है कि ऐसे मामलों पर पूरी तरह से रोक लगाई जाए.  बरेली जोन के सभी  थाना अध्यक्ष को निर्देशित किया गया है कि ऐसी किसी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, जिससे भविष्य में कोई इस तरह  की घटना करने की हिम्मत ना कर पाए."

एडीजी बरेली जोन राजकुमार ने बताया

श्रद्धा मर्डर केस के बाद बरेली पुलिस हुए सतर्क, मतांतरण-लव जिहाद को लेकर दिए ये निर्देश
बरेली: TTE ने फौजी को दिया ट्रेन से धक्का! हालत नाजुक, गुस्साए जवानों ने किया हंगामा

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in