कानपुर के बाद बीजेपी नेत्री के बयान के विरोध की आग लखनऊ और बरेली पहुंची

कानपुर के बाद बीजेपी नेत्री के बयान के विरोध की आग लखनऊ और बरेली पहुंची
सैय्यद उजमा परवीन को हाउस अरेस्ट किया गया. फोटो: यूपी तक

कानपुर में शुक्रवार यानी 3 जून को जुम्मे की नमाज के बाद भारी उपद्रव और बवाल के बाद रविवार को लखनऊ में सैय्यद उजमा परवीन का हाउस अरेस्ट कर लिया गया है. उजमा बीजेपी नेत्री नुपूर शर्मा के खिलाफ घंटाघर पर प्रदर्शन करने जा रही थीं. गौरतलब है कि उजमा सीए और एनआरसी के विरोध में भी नेतृत्व के लिए जानी जाती हैं. उधर बरेली में 10 जून को नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के प्रदर्शन की तैयारी है.

अहम बिंदु

बरेली के आलाहजरात परिवार से जुड़े और आईएमसी के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा खान ने दस तारिख को नमाज के बाद बरेली में मुस्लिम समुदाय का प्रदर्शन रखा है. वहीं जिला प्रशासन ने वहां धारा 144 लगा दी है. जिसके तहत पांच या उससे ज्यादा लोगों के एक जगह जमा होने पर रोक है.

नुपूर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर प्रदर्शन का ऐलान

मौलाना तौकीर रजा ने भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर अगले शुक्रवार (जुमें )को धरना प्रदर्शन के लिये इस्लामिया ग्राउंड में बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोगों को आने का आह्वान किया है. वहीं ध्यान देने वाली बात है कि बीजेपी ने मामले में बयान जारी कर साफ किया है कि पार्टी को ऐसा कोई भी विचार स्वीकृत नहीं है, जो किसी भी धर्म या संप्रदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाए. इधर पार्टी ने नुपूर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई भी की है. साथ नुपूर शर्मा ने सोशल मीडिया में ट्विट कर कहा- 'अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंची हो तो मैं अपने शब्द वापस लेती हूं.'

जिलाधिकारी धारा 144 लगाने की बताई ये वजह

जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने बताया कि सिविल सर्विसेज की परीक्षाएं चल रही हैं. चौबारी का मेला आने वाला है और समय-समय पर धारा 144 लगाते रहते हैं. कोई कर्फ्यू नहीं लगा है. कर्फ्यू को लेकर जो लोग कुछ और कह रहे हैं वो भ्रम पैदा कर रहे हैं.

सैय्यद उजमा परवीन को हाउस अरेस्ट किया गया.
कानपुर हिंसा मामले में 5 और गिरफ्तार, जांच में सामने आया PFI का ये कनेक्शन

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in