window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

कानपुर के कैंसर अस्पताल में दो-दो पूनम पांडे के बारे में पता चला, वहां और क्या-क्या दिखा?

रंजय सिंह

ADVERTISEMENT

कानपुर के कैंसर अस्पताल में दो-दो पूनम पांडे के बारे में पता चला, वहां और क्या-क्या दिखा?
कानपुर के कैंसर अस्पताल में दो-दो पूनम पांडे के बारे में पता चला, वहां और क्या-क्या दिखा?
social share
google news

Poonam Pandey Death News: अचानक सामने आई मॉडल पूनम पांडे की मौत की खबर ने सबको चौंका दिया है. पूनम के फैंस इस बात पर विश्वास नहीं कर पा रहे हैं कि अब वह इस दुनिया में नहीं हैं. उनके इंस्टाग्राम पेज से इस बात की पुष्टि हुई है कि पूनम सर्वाइकल कैंसर जूझ रही थीं. वहीं, इस बीच यह दावा किया जा रहा है कि पूनम की मौत उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में हुई है. यूपी Tak की टीम ने जब इस खबर की पड़ताल की, तो हमें कुछ और ही जानकारी मिली. खबर में आगे जानिए क्या है पूरा मामला. 

कानपुर के अस्पतालों से ये पता चला

आपको बता दें कि कानपुर में कैंसर की बीमारी के इलाज के लिए दो अस्पताल हैं. इनके नाम हैं- रीजेंसी अस्पताल और रॉयल कैंसर हॉस्पिटल. यूपी Tak को पड़ताल में पता चला कि कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल में पूनम पांडे नाम की दो महिलाओं का इलाज हुआ था. इनमें  एक की उम्र 65 तो दूसरी की उम्र 36 साल है. 36 वर्षीय पूनम पांडे शाहजहांपुर के रहने वाली हैं. उनके परिवार के एक सदस्य से हमारी बात हुई, जिन्होंने कहा 'मेरे घर की महिला पूनम पांडे का इलाज रीजेंसी हॉस्पिटल में हुआ था. उनके चेस्ट में कैंसर था, जो इलाज के बाद ठीक हो गई थीं.' दूसरी महिला सर्वोदय नगर निवासी पूनम पांडे हैं. वह 65 वर्ष की हैं. उनके पोते ने बताया कि उनकी दादी पूरी तरह ठीक हैं.

 

 

वहीं, रॉयल कैंसर हॉस्पिटल के डॉक्टर श्रीवास्तव ने कहा, "मेरे यहां पूनम पांडे नाम की किसी भी मरीज का इलाज नहीं हुआ है."

बता दें कि मॉडल पूनम पांडे कानपुर में कहां की रहने वाली हैं, इसका अभी कोई कंफर्मेशन नहीं मिला है. कानपुर में दो ही कैंसर हॉस्पिटल हैं और दोनों में ही मॉडल पूनम पांडे का इलाज नहीं हुआ है. ऐसे में तब तक यह नहीं कहा जा सकता है कि मॉडल पूनम की मौत कानपुर में हुई है जब तक कि कोई आधिकारिक बयान (किसी अस्पताल या पुलिस) का सामने नहीं आ जाता है. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT