कानपुर हिंसा: मुख्य आरोपी हयात हाशमी समेत 4 लखनऊ से गिरफ्तार, PFI कनेक्शन की हो रही जांच

कानपुर हिंसा: मुख्य आरोपी हयात हाशमी समेत 4 लखनऊ से गिरफ्तार, PFI कनेक्शन की हो रही जांच
हयात जफर हाशमी समेत चार लोगों को कानपुर क्राइम ब्रांच ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है. फोटो: रंजय सिंह, यूपी तक

कानपुर में हुई हिंसा के मुख्य साजिशकर्ता हयात जफर हाशमी समेत चार लोगों को कानपुर क्राइम ब्रांच ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है. अब तक कानपुर में हुए उपद्रव के मामले में 24 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं. 36 की शिनाख्त हो चुकी है जिनकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. इस पूरे प्रकरण में 3 एफआईआर दर्ज हुई है.

मुख्य साजिशकर्ता जफर हाशमी की गिरफ्तारी के बाद यूपी तक ने कानपुर पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा से खास बातचीत की, तो पुलिस कमिश्नर ने साफ कहा कि कानपुर हिंसा मामले में हम पीएफआई कनेक्शन खंगाल जा रहे हैं. कानपुर में हुई हिंसा के पीछे पीएफआई की साजिश से इनकार नहीं किया जा सकता.

उन्होंने कहा कि पकड़े गए सभी चारों आरोपियों ने हिंसा के बाद शहर छोड़ दिया था. पकड़ा गया जफर हयात एमएम जोहर फैन क्लब का अध्यक्ष और इसके कहने पर ही लोग इकट्ठा हुए और जिसकी वजह से कानपुर में उपद्रव हुआ.

विजय सिंह मीणा ने कहा कि हम हर पहलू की जांच कर रहे हैं. हर संगठन के कनेक्शन को खंगाला जा रहा है. आरोपियों के बैंक अकाउंट की भी डिटेल निकाली जाएगी कि इनकी फंडिंग कहां से हो रही थी?

बता दें कि पहली प्राथमिकी थाना प्रभारी (बेकनगंज) नवाब अहमद ने लगभग 500 लोगों के खिलाफ दर्ज की है और उनपर घातक हथियारों से दंगा करने का आरोप लगाया है. पुलिस उप-निरीक्षक (एसआई) आसिफ रजा द्वारा दर्ज की गई दूसरी प्राथमिकी में दंगे को लेकर 350 अज्ञात लोगों के अलावा 20 लोगों को नामजद करके प्राथमिकी दर्ज की गई है.

तीसरी प्राथमिकी चंदेश्वर हाटा निवासी मुकेश ने दर्ज करवाई है, जिसने आरोप लगाया है कि सैकड़ों मुसलमानों ने लाठी, लोहे की सरिया और घातक हथियारों से दूसरे समुदाय के लोगों पर हमला किया, उनकी हत्या के इरादे से पेट्रोल बम और पत्थर फेंके. प्राथमिकी में आरोपी के रूप में ``हजारों अज्ञात व्यक्तियों की भीड़'' का उल्लेख है.

गौरतलब है कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित ‘अपमानजनक’ टिप्पणियों के विरोध में शुक्रवार को कानपुर नगर में जुमे की नमाज के बाद दुकानें बंद कराने के प्रयास के दौरान दो समुदायों के लोगों द्वारा एक-दूसरे पर पथराव और बम फेंके जाने के बाद वहां कुछ इलाकों में हिंसा हुई.

हयात जफर हाशमी समेत चार लोगों को कानपुर क्राइम ब्रांच ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है.
कानपुर हिंसा का मुख्य आरोपी हयात जफर हाशमी पुलिस हिरासत में, पत्नी-बहन ने बताया निर्दोष

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in