फिरोजाबाद: कांच की चूड़ियों के कारखानों में नहीं आए मुस्लिम कारीगर, हुआ करोड़ों का नुकसान

फिरोजाबाद: कांच की चूड़ियों के कारखानों में नहीं आए मुस्लिम कारीगर, हुआ करोड़ों का नुकसान
फोटो: सुधीर शर्मा, यूपी तक

यूपी के फिरोजाबाद में 10 जून यानी जुमे के दिन मुस्लिम समाज के कारीगर कांच की चूड़ी का उत्पादन करने वाले कारखानों में नहीं आए. जिस कारण चूड़ी का उत्पादन पूरी तरह ठप हो गया.

अहम बिंदु

एक दिन के इस उत्पादन के ना होने से जहां एक ओर गैस भट्टी को गर्म करने के लिए गैस जल रही है, वहीं भट्टी में रॉ मटेरियल भी डाला गया. ऐसा माना जा रहा है कि एक दिन के अंदर करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है.

खास बात यह भी देखने में आई है कि यह चूड़ी का उत्पादन करने वाले कांच के कारखानों में आखिर श्रमिकों की हड़ताल किस ने बुलाई. यह अभी तक जानकारी नहीं हुई है. वहीं फिरोजाबाद शहर में भी थोड़ा सा माहौल इस समय गर्म हो गया है. क्योंकि कल मुस्लिम समाज की महिलाओं ने एक जुलूस निकालकर ज्ञापन दिया था, जिसमें नूपुर शर्मा की फांसी की मांग की गई थी.

फिलहाल पुलिस के कड़े बंदोबस्त से कांच के कारखानों के स्वामियों को जिला प्रशासन बार-बार समझा-बुझाकर उत्पादन प्रारंभ करने के लिए कह रहा है, लेकिन चूड़ियों के उत्पादन करने वाले श्रमिक के ना आने से पूरी तरह से चूड़ी का उत्पादन ठप हो गया है.

फिरोजाबाद: कांच की चूड़ियों के कारखानों में नहीं आए मुस्लिम कारीगर, हुआ करोड़ों का नुकसान
अलीगढ़: जुमे की नमाज पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी, हिंदू महासभा की शकुन पांडे पर हुआ केस

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in