Phalodi Satta Market: पांच चरण के बाद यूपी में पलटा पासा! राजस्थान के फलोदी सट्टा बाजार से आया ये चौंकाने वाला आंकड़ा

यूपी तक

ADVERTISEMENT

akhilesh yadav, rahul gandhi and PM modi (File Photo)
social share
google news

Phalodi Satta Market : देश में हो रहे लोकसभा चुनाव अब अपने अंतिम चरणों की तरफ बढ़ चला है. लोकसभा चुनाव के सात में से पांच चरणों का मतदान हो चुका है. पांच चरण की वोटिंग के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की अगुवाई वाली NDA और  विपक्षी इंडिया ब्लॉक, दोनों ही अपनी-अपनी जीत के दावे कर रहे हैं. वहीं जीत हार के इन दांवों के बीच  देश के प्रमुख सट्टा बाजार ने लोकसभा चुनाव को लेकर दावा कर दिया है.

दरअसल हम बात कर रहे हैं राजस्थान के प्रसिद्ध फलोदी सट्टा बाजार की. हर चुनाव में इस सट्टा बाजार पर अक्सर सभी की निगाह लगी रहती हैं. इस बार फलोदी सट्टा बाजार किसे विजयी बना रहा है, किसे कितनी सीट दिलवा रहा है, इसकी अक्सर लोगों के बीच चर्चा की जाती है. वहीं  लोकसभा चुनाव के पांच चरणों के मतदान के बाद लेकर भी फलोदी सट्टा बाजार ने अनुमान लगाया है कि देश और उत्तर प्रदेश में क्या होने वाला है.

फलोदी सट्टा बाजार ने क्या बताया अनुमान 

फलोदी सट्टा बाजार की मानें तो यूपी में भाजपा 2019 का परिणाम दोहराती हुई नजर आ रही है.  बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को यूपी में 80 में से 64 सीटे मिली थी. फलोदी सट्टा बाजार के मुताबिक, इस बार भाजपा को यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से 62-65 सीट मिलने का अनुमान है. वहीं  फलोदी सट्टा बाजार की माने तो यूपी में एक बार फिर समाजवादी पार्टी-कांग्रेस के गठबंधन को 10-15 सीटें मिलने का अनुमान लगाया जा रहा है. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT


पांचवे चरण के बाद बदले आंकड़े

बता दें रि 13 मई को आए अनुमान में बीजेपी को 300 सीटें जीतने की बात कही गई वहीं कांग्रेस को केवल 40-42 सीटें जीतने का अनुमान था कि पार्टी को 2019 के चुनावों में मिले 52 सीटों से भी कम था. बाकी की सीटों पर अन्य दलों के जीत का अनुमान था. हालांकि 1 हफ्ते के बाद सट्टा बाजार का अनुमान बाद गया है. अब बीजेपी 300 से नीचे आ गई है वहीं कांग्रेस का आंकड़ा 70 से 85 सीटों तक पहुंच गई है. 

क्या है फलोदी सट्टा बाजार

बता दें कि फलोदी सट्टा बाजार में हारने वाली पार्टी पर भाव ज्यादा होता है, जबकि जीतती हुई पार्टी पर भाव कम होता है. खास बात यह है कि फलोदी  के सटोरिये देश ही नहीं बल्कि दुनिया की राजनीतिक, खेल की गतिविधियां और बारिश जैसे अनुमान पर अपनी नजर रखते हैं. यहां ऐसे मामलों पर सट्टा लगता है. कहा यह भी जाता है कि यहां का आंकलन बिल्कुल सटीक होता है. इस कारण फलोदी का सट्टा बाजार देश और दुनिया में अपना अलग स्थान रखता है.

ADVERTISEMENT

नोट - इस खबर का मकसद केवल सट्टा बाजार में चल रहे रुझानों को दिखाना है. यूपी तक इन दावों का समर्थन नहीं करता है. नतीजे इससे अलग भी हो सकते है. सट्टा खेलना कानूनन अपराध है.
 

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT