अमरोहा में डबल मर्डर का खुलासा! संपत्ति विवाद में बेटे और बहू ने ही बाप-बेटी की निर्मम हत्या की

ADVERTISEMENT

Amroha News
Amroha News
social share
google news

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में डबल मर्डर मामले में पुलिस ने खुलासे का दावा किया है. सर्राफा व्यापारी और उनकी बेटी की हत्या के आरोप में पुलिस ने बेटे, बहू और एक कॉन्ट्रैक्ट किलर को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आला कत्ल बरामद करने का दावा भी किया है. बता दें कि घर में सोए सर्राफा व्यापारी और उनकी बेटी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी. 

क्या है पूरा मामला?

यह वारदात अमरोहा कोतवाली इलाके के मोहल्ला कटरा गुलाम अली की है. शनिवार को यहां के रहने वाले मशहूर सर्राफा कारोबारी योगेश चंद अग्रवाल और उनकी बेटी सृष्टि की खून से लथपथ लाश घर के कमरे में मिली थी. योगेश चंद अग्रवाल उद्योग व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष और सेवा भारती संस्था के नगर अध्यक्ष थे. गौरतलब है कि उनकी पत्नी छाया की कोरोना काल में मौत हो गई थी. परिवार में बेटा इशांक अग्रवाल, बेटी सृष्टि और बहु मानसी अग्रवाल हैं.    

योगेश चंद्र अग्रवाल अपने इकलौते बेटे, बहू और एक गोद ली हुई बेटी के साथ घर में रहते थे. आरोप है कि बेटे, बहू और कॉन्ट्रैक्ट किलर ने योगेश चंद अग्रवाल और उनकी बेटी सृष्टि को मौत के घाट उतार दिया. आरोपी बेटा इशांक अग्रवाल दोनों के शरीर से निकले खून के अवशेष मिटाने के लिए वाशिंग मशीन में धोकर सबूत मिटाने की कोशिश की. आरोपियों ने मौके पर सामान बिखेर कर पुलिस को गुमराह करने का प्लान भी बनाया था. फिलहाल पुलिस ने घटना का खुलासा कर लिया है और आरोपी बेटे समेत उसकी पत्नी और एक कॉन्ट्रैक्ट किलर को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. पिता के साथ संपत्ति के विवाद में आरोपी बेटे ने अपनी पत्नी और एक कॉन्ट्रैक्ट किलर के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

आरोपी बेटा
आरोपी बेटा

पुलिस ने क्या कहा?

एसपी कुंवर अनुपम सिंह ने बताया कि दिनांक 10 फरवरी को जनपद अमरोहा में कोतवाली अमरोहा नगर क्षेत्र में एक मर्डर की घटना हुई थी, जिसमें पिता और बेटी मृत अवस्था में पाए गए थे. इस संबंध में मुकदमा दर्ज करके विवेचना शुरू की गई थी. आज इस घटना का अनावरण किया गया. मृतक के बेटे, उनकी बहू और एक अन्य साथी का हाथ घटना में है, जिन्होंने पिता और बेटी का मर्डर किया. उसके बाद घटनास्थल को परिवर्तित करके उसे लूट का घटना स्थल प्रदर्शित करने की कोशिश की, ताकि पुलिस को गुमराह किया जाए. 

उन्होंने बताया कि घटना के पीछे कारण यह है कि पिता और बेटे में लंबे समय से संपत्ति का विवाद चल रहा था और इसके अलावा बेटा अपनी संपत्तियों को बेचकर दिल्ली में शिफ्ट होना चाह रहा था. साथ में ही पिता की कुछ गतिविधियां थी जिनसे बेटे और बहू लगातार नाराज चल रहे थे. इसी वजह से उन्होंने इस घटना को अंजाम देने की योजना बनाई और अपने एक साथी के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया.

ADVERTISEMENT

एसपी ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद घटनास्थल की साफ-सफाई करके पोंछा लगाकर चीजों को गायब करके लूट का वातावरण क्रिएट करने की कोशिश की गई और आला कत्ल बरामद हो चुका है. आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेजा जा रहा है. 

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT