बदायूं: मोर्चरी में रखे कैदी के शव की गायब मिलीं आंखें, फांसी लगाकर की थी 'आत्महत्या'

बदायूं: मोर्चरी में रखे कैदी के शव की गायब मिलीं आंखें, फांसी लगाकर की थी 'आत्महत्या'
फोटो: अंकुर चतुर्वेदी

उत्तर प्रदेश में बदायूं के जिला अस्पताल से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. मिली जानकारी के मुताबिक, अस्पताल की मोर्चरी में रखे हुए मुर्दे की आंखें गायब हो गई हैं. आरोप है कि परिजनों ने जब सुबह जाकर मोर्चरी में शव को देखा तो उसकी दोनों आंखें गायब थीं. इसको लेकर परिजनों ने अस्पताल प्रशासन को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है और मामले की शिकायत आला अधिकारियों से की है. मिली जानकारी के अनुसार, सूचना मिलने के बाद जिलाधिकारी बदायूं ने इस मामले में मजिस्ट्रियल जांच के भी आदेश दे दिए हैं.

अब तक क्या सामने आया?

मामला जिला अस्पताल की मोर्चरी से जुड़ा हुआ है. सोमवार को जिला जेल में गैंगस्टर की धाराओं में बंद अलीगढ़ जनपद के थाना अतरौली के रहने वाले चार साल के सजायाफ्ता कैदी भोलू ने कथित तौर पर फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी. परिजनों के न पहुंचने से पंचायत नामा की कार्रवाई नहीं हो सकी थी, इसलिए पोस्टमॉर्टम अगले दिन होना था. इस कारण शव को मोर्चरी में रखवा दिया गया. सुबह जब परिजन मोर्चरी पहुंचे, तो शव को देखने के बाद भड़क गए. शव की दोनों आंखें गायब थीं.

मृतक के मामा रामरतन ने अधिकारियों को दिए गए शिकायती पत्र मे आरोप लगाया है कि जिला अस्पताल में शव को सुरक्षित रखने का कोई इंतजाम नहीं है और गंदगी के अंबार हैं. शिकायती पत्र में उन्होंने उल्लेख किया है कि कल रात जब वे लोग मोर्चरी में शव को देखने गए थे, तो उसकी आंखें थी और सब कुछ ठीक था चिंटू जब आज सुबह अन्य रिश्तेदारों के आने पर पुनः मोर्चरी में जाकर सबको देखा तो उसकी दोनों आंखें गायब थी. इसकी शिकायत मुख्य चिकित्सा अधिकारी से की तो उन्होंने परिजनों के साथ बदसलूकी की और भगा दिया.

जिलाधिकारी बदायूं श्रीमती दीपा रंजन के निर्देश के बाद जिला अस्पताल के सीएमएस विजय बहादुर राम ने सीएमओ के साथ मोर्चरी जाकर गहनता से पड़ताल की. मजिस्ट्रियल जांच करने जिला राजस्व अधिकारी/एसडीएम भी और शव मोर्चारी में लाये जाने से लेकर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया में शामिल सभी लोगो के बयान दर्ज किए. साथ ही मोर्चरी को भी देखा.

जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. विजय बहादुर राम ने बताया कि मुर्दे की आंखें गायब होने का मामला संज्ञान में आया है. पूरे मामले की बारीकी से जांच की जा रही है कि ऐसा कैसे हुआ है. जांच पूरी होने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

बदायूं: मोर्चरी में रखे कैदी के शव की गायब मिलीं आंखें, फांसी लगाकर की थी 'आत्महत्या'
बदायूं: थर्ड डिग्री के दौरान युवक के प्राइवेट पार्ट में लगाया गया करंट? जानें पूरा मामला

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in