जिस बच्चे को मारकर पिता ने झाड़ियों में फेंका वो अचानक आ गया सामने, जानिए पूरा मामला

जिस बच्चे को मारकर पिता ने झाड़ियों में फेंका वो अचानक आ गया सामने, जानिए पूरा मामला
यूपी तक

यूपी के बरेली में एक हैरत में डालने वाला मामला सामने आया है. यहां एक पिता ने अपनी पत्नी का गुस्सा बच्चे पर उतार दिया. तीन साल के मासूम बच्चे का गला दबाकर  झाड़ियों में फेक दिया. मामला जब पुलिस के संज्ञान में आया तो वे बच्चे के शव को तलाशने में जुट गई.

पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि झाड़ियों से एक बच्चे को साठ साल की महिला अपने साथ ले गई है. पुलिस जब महिला के घर पहुंची तो जिस बच्चे को वो मरा हुआ समझकर तलाश रही थी वो महिला के घर मे जिन्दा मिला. जिसके बाद पुलिस महिला व बच्चे को अपने साथ थाने ले आई.

फरीदपुर थाना क्षेत्र के बसोकर गांव का निवासी राम लखन अपनी पत्नी व तीन साल के बच्चे के साथ फरीदपुर के गौसगंज में अपने चाचा भीमसेन के यहां आया था. जहां पर रामलखन ने अपने पत्नी से गांव लौटने को कहा तो वो बोली कि एक दिन रुक जाते हैं. इसी बात को लेकर पति-पत्नी में कहासुनी हो गई. गुस्से में रामलखन अपने तीन साल के बेटे को लेकर विशारतगंज जाने की बात पत्नी से कही और घर से निकल गया. बच्चे को लेकर जैसे ही रामलखन चौबारी के पास सुनसान जगह पहुंचा तो उसने पत्नी का गुस्सा तीन साल के बेटे पर निकाल दिया.

आरोपी पिता ने बेटे का गला दबाकर मरा हुआ समझकर झाड़ियों में फेंक दिया. बच्चे को मारने के बाद रामलखन बुरी तरह से घबरा गया और बसई गांव में अपने फूफा के घर पहुंच गया जहां पर उसने फूफा को बताया कि मैंने अपने बच्चे को मारकर झाड़ियों में फेंक दिया है.

फूफा ने मामले की सूचना फरीदपुर थाने में दी. जिसके बाद फरीदपुर पुलिस ने अपने उच्च अधिकारियों को मामले से अवगत कराया.  सीओ सिटी प्रथम, सीओ फरीदपुर के साथ कई थानों की पुलिस को बच्चे के शव की तलाश में लगा दिया गया. पुलिस ने पहले रामलखन को रात में ही हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि चौबारी के पास झाड़ियों में उसने बच्चे के शव को फेंका है. जब पुलिस अंधेरे में झाड़ियों के पास पहुंची तो उससे कुछ भी नहीं मिला.

अहम बिंदु

पुलिस ने आस-पास के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि एक 60 साल की महिला को झाड़ियों में से एक बच्चे को उठाते हुए देखा है और वो महिला टांडा गांव की रहने वाली है. पुलिस बिना देरी किये उस महिला के घर पर पहुंच गई जहां पर तीन साल का बच्चा जिन्दा मिला.

महिला ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि वो चौबारी के पास अपनी भैंसे चराने के लिए गई थी. जहां पर झाड़ियों से बच्चे की रोने की आवाज़ आ रही थी. मैंने बच्चे को वहां से उठा लिया और आस-पास में बच्चे के बारे में पता किया मगर कुछ भी पता नहीं चला. जिसके बाद बच्चे को लेकर अपने घर आ गई. फिलहाल बच्चे के पिता पर पुलिस ने हत्या करने के प्रयास में मुकदमा दर्ज किया है.

संबंधित खबरें

No stories found.