फिरोजाबाद: 24 घंटे में 5 और मौतें, 3 डॉक्टर सस्पेंड, बाइक पर शव की तस्वीर आई सामने

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

फिरोजाबाद में हेमोरेजिक डेंगू और अन्य वजहों से आ रहे बुखार का कहर जारी है. बुधवार देर रात और गुरुवार मिलाकर करीब 24 घंटे के भीतर 6 और मौतें देखने को मिली हैं. मरने वालों का आधिकारिक आंकड़ा 50 पहुंच चुका है. इन मौतों में में वो डेटा शामिल नही है जिनकी घर मे ही इलाज के दौरान मौत हुई है। बहुत से मरीजों के तीमारदार जिले के बाहर अन्य अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं. इसका आंकड़ा भी CMO के पास नहीं है. फिरोजाबाद डीएम चंद्र विजय सिंह ने लापरवाही करने के आरोप में तीन डॉक्टरों को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया है. इस बीच फिरोजाबाद से एक मार्मिक तस्वीर सामने आई है, जिसमें परिजन अपनी मृत बच्ची को बाइक पर लेकर जा रहे हैं.

बच्ची की मौत के बाद चीखती मां ने लगाया लापरवाही का आरोप

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

6 साल की पल्लवी अभी दो दिन पहले ही फिरोजाबाद के 100 बेड अस्पताल मे भर्ती हुई थी. गुरुवार को डेंगू के चलते उसकी मौत हो गई. बच्ची की मौत के बाद उसके परिवार वाले उसके शव को मोटरसाइकिल पर ही ले गए. उधर, मेडिकल कॉलेज की प्रिंसिपल संगीता अनेजा का कहना है कि बच्ची के परिवार वाले अपनी मर्जी से उसके शव को मोटरसाइकिल पर ले गए. उनके मुताबिक अस्पताल में गाड़ी की व्यवस्था है. बच्ची के निधन के बाद अस्पताल परिसर में अफरातफरी का दृश्य देखने को मिला.

बच्ची के लिए चीखती मां ने रोते हुए बताया कि यहां पर कोई इलाज नहीं हो रहा है. डॉक्टर ने कहा कि प्लेटलेट्स का जल्दी से इंतजाम करो और हम कर ही रहे थे कि बच्ची की मौत हो गई.

बढ़ते मामलों के बीच तीन डॉक्टर निलंबित

ADVERTISEMENT

फिरोजाबाद डीएम ने इलाज में लापरवाही के आरोप में तीन डॉक्टरों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. दूसरे डॉक्टरों को भी सख्त चेतावनी दी गई है. निलंबित डॉक्टरों में प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सैलई डॉ गिरीश श्रीवास्तव, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ सौरव व पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट डॉ रुचि यादव शामिल हैं.

मौतों के पीछे खतरनाक हेमरोजेनिक डेंगू भी वजह

ADVERTISEMENT

फिरोजाबाद में हो रही मौतों के पीछे की प्रमुख वजह डेंगू ही सामने आया है. हालांकि जांच में अन्य कुछ बीमारियों का भी जिक्र किया है. फिरोजाबाद डीएम ने WHO की टीम के हवाले से बताया है कि यहां हेमरोजेनिक डेंगू के मामले देखने को मिले हैं. फिरोजाबाद में लोगों को डेंगू से बचाव के लिए जागरूक करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

मुझे डब्ल्यूएचओ की टीम ने बताया है कि ये डेंगू हेमोरेजिक डेंगू है और बहुत खतरनाक टाइप का डेंगू है. इसमें बच्चों के प्लेटलेट्स अचानक से गिरते हैं. यहां तक कि मसूढ़ों से खून निकल रहा है. ये अलग तरह का डेंगू है, इसे रोकने के लिए हमें जन-जन को जागरूक करना है.

फिरोजाबाद डीएम चंद्र विजय सिंह

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT