window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

देवरिया केस: सत्य प्रकाश दुबे के परिवार पर गोलियां चलाने वाला मुख्य आरोपी अरेस्ट, कौन है ये

राम प्रताप सिंह

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Deoria News: देवरिया से बड़ी खबर सामने आ रही है. बता दें कि सत्य प्रकाश दुबे और उनके परिवार के 4 सदस्यों की हत्या करने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि पुलिस ने मुख्य आरोपी नवनाथ मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस को इस केस में बड़ी सफलता हाथ लगी है. 

मिली जानकारी के मुताबिक, मुख्य आरोपी नवनाथ मिश्रा, मृतक प्रेम चंद्र यादव का ड्राइवर और अंगरक्षक था. आरोपी नवनाथ मिश्रा उर्फ पट्टू, अभयपूरा टोले का ही रहने वाला है. उसे राइफल प्रेम के नाम से भी जाना जाता है. पुलिस का कहना है कि आरोपी ने कबूल कर लिया है कि वह घटना के वक्त वहां मौजूद था. पुलिस द्वारा ये भी बताया जा रहा है कि जो 3 राउंड फायरिंग घटना के समय की गई थी, वह भी नवनाथ मिश्रा ने ही की थी. 

पुलिस ने क्या कहा

पुलिस ने बताया है कि आरोपी नवनाथ मिश्रा, हर समय मृतक प्रेम चंद्र के साथ ही रहता था. आरोपी, प्रेम चंद्र का ड्राइवर भी था और अंगरक्षक का काम भी करता था. अभी तक की जांच में सामने आया है कि आरोपी ने जिस राइफल से 3 राउंड फायरिंग की है, वह राइफल मृतक प्रेम चंद्र यादव की है. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पुलिस ने आरोपी नवनाथ मिश्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा-302 समेत अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है. पुलिस का ये भी कहना है कि आरोपी के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की जाएगी. आपको ये भी बता दें कि अभी तक इस मामले में पुलिस ने 20 लोगों को अरेस्ट कर लिया है. 

क्या है ये पूरा मामला

आपको बता दें कि फतेहपुर गांव के लेड़हा टोला में बीते सोमवार को 10 बीघा जमीन को लेकर जबरदस्त हिंसा हुई. इस घटना में पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रेम यादव की हत्या कर दी गई. वहीं सत्य प्रकाश दुबे के परिवार में सत्य प्रकाश दुबे, उनकी पत्नी, दो बेटियों और बेटे का गला काटा गया और गोली मारी गई. हमलावर इतने बेरहम हो चुके थे कि उन्होंने 8 साल के बच्चे तक को नहीं छोड़ा. उसे मरा समझकर छोड़ गए. फिलहाल बच्चा अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है.

ADVERTISEMENT

जारी है कार्रवाई

वहीं इस मामले में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर मामला दर्ज कराया है. इस मामले में अब तक 16 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक पहले मुकदमे के तहत सत्यप्रकाश दुबे की बड़ी बेटी शोभिता द्विवेदी की ओर से 27 नामजद और 50 अज्ञात सहित 77 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302(हत्या) और 307 (हत्या का प्रयास) के अलावा अन्य के तहत एफआईआर दर्ज कराई गई है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT