वरुण गांधी
वरुण गांधी(फोटो: यशवंत नेगी/इंडिया टुडे)

कृषि उत्पाद पर गारंटीशुदा MSP के प्रावधान वाला निजी विधेयक पेश करेंगे BJP सांसद वरुण गांधी

यूपी के पीलीभीत से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के लोकसभा सदस्य वरुण गांधी (Varun Gandhi) किसानों को कृषि उत्पाद पर गारंटीशुदा न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) का अधिकार दिलाने के प्रावधान वाला एक निजी विधेयक पेश करेंगे.

लोकसभा सचिवालय की विधायी शाखा के 20 जुलाई के बुलेटिन के अनुसार, राष्ट्रपति ने संविधान के अनुच्छेद 117(3) के तहत सांसद वरुण गांधी के गैर सरकारी विधेयक ‘द फार्मर्स राइट टू गारंटीड मिनिमम सपोर्ट प्राइस रिएलाइजेशन ऑफ एग्री प्रोड्यूस बिल 2022’ पर लोकसभा में विचार करने की सिफारिश कर दी है.

इस निजी विधेयक का मकसद 22 फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी प्रदान करवाना है, जिसे समग्र उत्पादन लागत के 50 प्रतिशत के लाभांश पर निर्धारित किया जाना चाहिए.

वरुण गांधी ने ‘‘पीटीआई भाषा’’ से कहा, ‘‘ हमें भारतीय किसानों को पेश आ रही समस्याओं के हर पहलुओं को समझना होगा और खासतौर पर छोटे एवं सीमांत किसानों को परेशानियों को दूर करना होगा. हमारे किसानों पर अनिश्चित बाजार जोखिम, अपर्याप्त आपूर्ति श्रृंखला एवं इससे संबंधित आधारभूत ढांच की कमी और खेती की लागत सहित व्यवहार्यता आदि से प्रभावित हैं.’’

प्रस्तावित निजी विधेयक में इस बात की व्यवस्था है कि एमएसपी से कम कीमत हासिल करने वाला कोई भी किसान प्राप्त मूल्य और गारंटीशुदा एमएसपी के बीच मूल्य के अंतर के बराबर मुआवजे का हकदार होगा. एमएसपी का आधार उत्पादन लागत पर 50 प्रतिशत लाभांश होगा.

इसमें यह भी कहा गया है कि एमएसपी से कम मूल्य पाने वाला किसान मुआवजे का हकदार होगा. फसलों का वर्गीकरण उसके गुणवत्ता मानकों के आधार पर होगा.

निजी विधेयक में फसल भंडारण के बदले किसानों को ऋण का प्रवधान है. साथ ही किसानों को समय से भुगतान करने पर भी जोर दिया गया है.

(भाषा के इनपुट्स के साथ)

ये भी पढ़ें

वरुण गांधी
वरुण गांधी ने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर उठाए सवाल, कही ये बात

Related Stories

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in