प्रयागराज: अग्निपथ योजना के खिलाफ बवाल के कारण 6000 से ज्यादा रेलवे टिकट हुए कैंसिल

प्रयागराज: अग्निपथ योजना के खिलाफ बवाल के कारण 6000 से ज्यादा रेलवे टिकट हुए कैंसिल
फोटो: आनंद राज, यूपी तक

अग्निपथ योजना को लेकर बिहार, यूपी समेत कई राज्यों में चल रहे विरोध प्रदर्शन के चलते रेल संचालन पर असर पड़ा है. इसी प्रदर्शन के चलते कई ट्रेनें निरस्त हो रही हैं. इस वजह से रेल के यात्रियों को भी खासी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं. रेलवे विभाग को टिकट के पैसे भी रिफंड करने पड़ रहे हैं. प्रयागराज मंडल में पिछले 2 दिनों के भीतर 6 हजार से अधिक टिकट निरस्त किए जा चुके हैं, जो प्रयागराज के साथ ही अलग-अलग स्टेशनों के रिजर्वेशन काउंटर से जुड़े हैं. इसकी अनुमानित धनराशि 35 लाख से अधिक की राशि रिफंड की गई है.

अहम बिंदु

आगरा जंक्शन हो या फिर कानपुर सेंट्रल से इटावा, प्रयागराज मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर ट्रेनों के आगमन से ज्यादा उनकी निरस्त की जानकारी प्रसारित की जा रही है. एनसीआर के वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय के मुताबिक एनसीआर से गुजरने वाली 50 के करीब ट्रेनों को सोमवार को निरस्त किया गया है. जिन लोगों ने रिजर्वेशन करवाया था, उनके टिकट के पैसे भी रिफंड किए जा रहे हैं.

अमित मालवीय ने कहा कि विरोध प्रदर्शन को देखते हुए एनसीआर ने रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है. अभी रेलवे स्टेशन के साथ ही जगह-जगह पर जीआरपी के साथ ही सिविल पुलिस के जवानों को भी तैनात किया गया है. आला अधिकारियों की नजर भी पूरे घटनाक्रम पर है. स्टेशनों की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से की जा रही है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि सरकारी सम्पत्तियों को नुकसान न पहुंचाया जाए. हिंसक प्रदर्शन की बजाय ज्ञापन के जरिए अपनी बातों को रखा जाए.

20 जून को प्रदर्शनकारियों ने भारत बंद का आह्वान किया. जिसको लेकर पहले से ही रेलवे और जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर था. प्रयागराज रेलवे स्टेशन के अलावा प्रयागराज मंडल के जितने भी रेलवे स्टेशन हैं सबपर पुलिस फोर्स को तैनात किया गया था. प्रयागराज रेलवे स्टेशन और प्रयाग स्टेशन पर आने वाली ट्रेनों से यात्रियों ने प्रदर्शन की वजह से किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं होने की बात कही है.

ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों ने यह भी कहा है कि हम लोगों को ट्रेन में किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं हुई. हर स्टेशनों पर पुलिस फोर्स में नजर आई है, लेकिन हम लोगों को यात्रा करने से पहले किसी प्रकार का कोई डर भी नहीं लगा.

भारत के कई हिस्सों में अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने कई ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया. जिसके चलते सबसे ज्यादा नुकसान रेलवे विभाग को हुआ है. रेलवे अपने यात्रियों को सुखद यात्रा बनाने के लिए भारी पुलिस बल को रेलवे स्टेशनों पर तैनात कर दिया. 20 जून को बंद का आह्वान का कोई असर यात्रियों पर नजर नहीं आया. हालांकि यात्री भी आज के दिन बहुत सुखद यात्रा कर अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच गए. भारत बंद के आह्वान के चलते किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना प्रयागराज में नहीं सुनाई दी है.

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.
प्रयागराज: अग्निपथ योजना के खिलाफ बवाल के कारण 6000 से ज्यादा रेलवे टिकट हुए कैंसिल
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in