गंगा एक्सप्रेसवे को मिला एनवायरमेंट क्लीयरेंस, मंत्री नंद गोपाल नंदी ने दी जानकारी

मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेसवे को एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिल गया है.
मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेसवे को एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिल गया है. फोटो कोलाज: यूपी तक

गंगा एक्सप्रेसवे (Ganga Expressway) को एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिल गया है. उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी (Nand Gopal Gupta Nandi) ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है.

मंत्री नन्दी ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए कहा, "देश के यशस्वी प्रधानमंत्री आदरणीय नरेन्द्र मोदी जी और प्रदेश के कर्मयोगी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में नए भारत का नया उत्तर प्रदेश हर गुजरते दिन के साथ तरक्की के नए आयाम छू रहा है."
फोटो: नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी के ट्विट का स्क्रीनशॉट.
मंत्री नन्दी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेसवे को एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिलना, विकास परियोजनाओं को निश्चित समयावधि में पूर्ण करने की हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है. उत्तर प्रदेश के उत्तम से सर्वोत्तम प्रदेश बनने की यात्रा में यह अवसर बेहद विशिष्ट है.

मंत्री ने कहा, "एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिलने के बाद अब निर्माण कार्य और अधिक तेजी के साथ आगे बढ़ेगा. इस उपलब्धि पर मैं अपने विभाग के सभी कर्मठ, परिश्रमी और लगनशील अधिकारियों की सराहना करता हूं."

मंत्री नन्दी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को हार्दिक बधाई देता हूं. भारत सरकार व माननीय प्रधानमंत्री जी के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं.

बता दें कि बीते साल 18 दिसंबर को यूपी के शाहजहांपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया था. यह एक्सप्रेसवे मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज से होकर गुजरेगा.

गंगा एक्सप्रेसवे करीब 594 किलोमीटर लंबा बनाया जाएगा और इसकी अनुमानित लागत 36230 करोड़ रुपये आएगी. बता दें कि गंगा एक्सप्रेसवे परियोजना में 946 पुलियां, 14 बड़े पुल, 28 फ्लाई ओवर, 126 छोटे पुल और 7 आरओबी का निर्माण किया जाना प्रस्तावित है.

ये भी पढ़ें-

मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने बताया कि गंगा एक्सप्रेसवे को एनवायरमेंट क्लीयरेंस मिल गया है.
गंगा एक्सप्रेसवे: तीन हिस्सों को बनाने के लिए अडाणी एंटरप्राइजेज को मिला पत्र, जानें डिटेल

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in