'हर-हर शंभू' से पहले कृष्ण-हनुमान पर भी गा चुकी हैं फरमानी नाज, UP Tak पर सुनाई पूरी कहानी

'हर-हर शंभू' से पहले कृष्ण-हनुमान पर भी गा चुकी हैं फरमानी नाज, UP Tak पर सुनाई पूरी कहानी
फोटो: यूपी तक

मुजफ्फरनगर की रहने वाली गायिका फरमानी नाज उस समय विवादों के बीच में आ गईं, जब उन्होंने कांवड़ यात्रा के लिए 'हर-हर शंभू' नामक गाना रिकॉर्ड कर उसे यूट्यूब पर अपलोड कर दिया. फरमानी के इस गाना की जहां एक तरफ लोगों ने तारीफ की. वहीं दूसरी तरफ खबर है कि देवबंद के कुछ मौलानाओं ने गाने का विरोध करते हुए सिंगर के खिलाफ फतवा जारी कर दिया. इन्हीं सब विवादों के बीच आज यानी मंगलवार को फरमानी नाज यूपी तक से खास बातचीत की और खुलकर अपना पक्ष सामने रखा.

'सवाल उठ रहा है कि आपने 'हर-हर शंभू' गाना क्यों गाया, इसे इस्लाम के खिलाफ बताया जा रहा है?' इस पर मुस्लिम सिंगर ने कहा,

"मुझे गाना गाते हुए तकरीबन 3 साल हो गए हैं. मैंने 2019 के सितंबर महीने से गाना शुरू किया था, जब मैंने पहली वीडियो बनाई थी. उसके बाद मैंने कई भजन गाए- कृष्ण जी, हनुमान जी के. पहले हम ढोलक पर गाते थे, लोगों ने कहा आप म्यूजिक पर गाओ. फिर हमने संघर्ष किया, स्टूडियो बनाया. दो यूट्यूब चैनल भी बनाए. ऐसा नहीं है कि मैंने 'हर-हर शंभू' पहली बार गाया है."

फरमानी नाज

'आपने पहले भी कई भजन गाए, क्या कभी किसी ने इसे लेकर आपत्ति दर्ज कराई?' इस पर फरमानी ने कहा, "आपत्ति तो अभी भी नहीं है. ऐसा नहीं है कि किसी मौलवी या मौलाना ने फ़तवा जारी कर दिया है. मैं जिस गांव में रहती हूं, वहां बहुत मुस्लिम हैं, जो मेरा हौसलाअफजाई करते हैं और बधाई देते हैं. मोहम्मद रफी ने भी कई भजन गाए थे. मास्टर सलीम का भजन जय गणेश भी खूब बजता है."

फरमानी ने बताया, "जब मैंने एक हीर रांझा का गाना गाया था तभी मुझे कुमार शानू जी के यहां से ऑफर आया था. अगर वो ये सोचते कि यह तो मुस्लिम महिला है, मैं इसके साथ क्यों गाऊं, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं सोचा."
फरमानी ने बताया कि उनकी शादी के बाद उनके पति ने उन्हें काफी परेशान किया था, जिसके बाद जिम्मेदार लोगों से समझौता कराने की अपील की थी. उन्होंने कहा कि उस दौरान किसी मुल्ला या मौलवी ने उनका साथ नहीं दिया था. उन्होंने बताया कि अपने बच्चे की परवरिश के लिए वह गाना जाती हैं. उन्होंने बताया कि उनके बच्चे के ऑपरेशन के लिए मुजफ्फरनगर के बीजेपी सांसद संजीव बालियान ने खर्चा उठाया था. फरमानी ने अपील करते हुए कहा कि जो लोग उनके खिलाफ कमेंट करते हैं, वे न करें. क्योंकि वह अपने बच्चे के लिए ये सब कर रही हैं.

फरमानी से हुई बातचीत को आप नीचे दिए गए लिंक पर सुन सकते हैं.

'हर-हर शंभू' से पहले कृष्ण-हनुमान पर भी गा चुकी हैं फरमानी नाज, UP Tak पर सुनाई पूरी कहानी
हर हर शंभु गाने वाली मुस्लिम लड़की फरमानी नाज की कहानी, इनपर क्यों भड़क गए मौलाना?

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in