भैरव अष्टमी पर वाराणसी में काटा गया 701 किलो का केक, जानिए इस 'ग्रैंड केक कटिंग' की वजह

रोशन जायसवाल

वाराणसी में भैरव अष्टमी पर बाबा काल भैरव के दरबार में भक्तों ने 701 किलो का केक काटकर उनका जन्मदिन मनाया.

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक

साथ ही भक्तों ने इस केक को देश में 100 करोड़ वैक्सीनेशन को समर्पित करते हुए पीएम मोदी को धन्यवाद किया.

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक

हर वर्ष बाबा काल भैरव को पिछले साल की तुलना में 50 किलो केक के वजन में वृद्धि करके अर्पित किया जाता है.

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक

इस बार का यह आयोजन खास रहा. कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में 100 करोड़ डोज पूरे होने पर केक काटकर पीएम मोदी को धन्यवाद किया गया.

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक

केक बनाने वाले भक्त प्रिंस बताते हैं, "पिछले 15 साल से बाबा काल भैरव का जन्मदिन मनाते चले आ रहे हैं और हर साल 50-50 किलो केक के वजन में इजाफा करते हैं."

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक

प्रिंस ने आगे बताया कि 15 साल पहले केक काटने की परंपरा की शुरूआत एक किलो से हुई थी, जो बढ़कर 701 किलो तक आ चुकी है.

फोटो: रौशन जायसवाल, यूपी तक