उमेश पाल हत्याकांड: अब पुलिस अतीक अहमद के बेटे अली को कस्टडी रिमांड पर लेने की तैयारी में

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

प्रयागराज में उमेश पाल हत्याकांड (Umesh Pal murder case) मामले में नैनी जेल में बंद अतीक अहमद (atiq Ahmed) के दूसरे बेटे अली से पुलिस पूछताछ की तैयारी कर रही है. पुलिस अली को कस्टडी रिमांड पर लेने की तैयारी में है.

जानकारी के मुताबिक, उमेश पाल हत्याकांड से पहले शूटर गुड्डू मुस्लिम, साबिर और मोहम्मद गुलाम, अली के दोस्त बनकर उससे नैनी जेल में मिलने पहुंचे थे. पुलिस रिमांड के दौरान अतीक अहमद के वकील खान सौलत हनीफ ने भी हत्याकांड में अली की भूमिका बताई थी.

शूटर मोहम्मद गुलाम अली का ही सबसे ज्यादा वफादार था. अली के जरिए ही अतीक अहमद के परिवार का मोहम्मद गुलाम करीबी हुआ था. अली के जेल जाने के बाद मोहम्मद गुलाम, अशरफ अहदम और शाइस्ता परवीन का विश्वासपात्र हुआ था.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बता दें कि पिछले दिनों पुलिस ने अतीक अहमद के वकील खान सौलत हनीफ को कस्टडी रिमांड पर लिया था. इस दौरान पुलिस पूछताछ में उसने उमेश पाल शूटआउट मामले में कई राज उगले थे. वकील खान सौलत हनीफ ने बताया था कि उमेश पाल हत्याकांड से पहले इस मामले को लेकर जितनी भी मीटिंग होती थी, उन सभी में शाइस्ता परवीन शामिल होती थी. शाइस्ता परवीन को इस पूरे मामले की जानकारी थी.

ये भी पढ़ें- अतीक अहमद का वकील खान सौलत ही बताने लगा शाइस्ता और उसके बेटों के सारे राज, गिनाने लगा गुनाह

गौरतलब है कि प्रयागराज के धूमनगंज इलाके में इसी साल 24 फरवरी को उमेश पाल और उनके दो पुलिस सुरक्षाकर्मियों की उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. उमेश पाल वर्ष 2005 में हुई बसपा विधायक राजू पाल की हत्या के मामले में मुख्य गवाह थे.

ADVERTISEMENT

उमेश पाल की पत्नी जया पाल की शिकायत पर 25 फरवरी को पूर्व सांसद अतीक अहमद, उसके भाई अशरफ, पत्नी शाइस्ता परवीन, दो बेटों, गुड्डू मुस्लिम और गुलाम और नौ अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था.

अतीक अहमद को पिछली 28 मार्च को प्रयागराज की एक अदालत ने वर्ष 2006 में उमेश पाल के अपहरण के मामले में दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी.

ADVERTISEMENT

अतीक और अशरफ को उमेश पाल की हत्या के मामले में पूछताछ के लिए प्रयागराज लाया गया था. पिछली 15 अप्रैल को मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाए जाते वक्त तीन हमलावरों ने दोनों की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या कर दी थी.

ये भी पढ़ें- तो इसलिए हुआ था उमेश पाल हत्याकांड, सामने आई बड़ी वजह

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT