Exclusive: प्रियंका गांधी के एक्टिव होने से क्या SP को होगा नुकसान? अखिलेश ने दिया ये जवाब

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले जनता तक पहुंचने के लिए राजनीतिक दल अगल-अलग तरीके अपना रहे हैं. इसी क्रम में समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को कानपुर से ‘समाजवादी विजय यात्रा’ की शुरुआत की है.

अखिलेश ने अपनी इस यात्रा और आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर यूपी तक से खास बातचीत की है.

यात्रा को लेकर अखिलेश ने बताया, ”गंगा से लेकर यमुना के किनारे तक समाजवादी विजय रथ चलेगा और (इसे) इसलिए चला रहे हैं कि जनता का सहयोग, समर्थन और आशीर्वाद लेने के लिए हम लोग निकले हैं.”

एसपी अध्यक्ष ने कहा, ”2022 में मुझे उम्मीद है कि जनता भारतीय जनता पार्टी का सफाया करेगी. उत्तर प्रदेश को धोखा मिला है, यही गंगा जमुना के बीच का इलाका है, जहां पर सबसे ज्यादा खुशहाली होनी चाहिए थी. उत्तर प्रदेश हमारा किसानों का प्रदेश है, लेकिन किसानों के साथ धोखा हुआ है. उनसे कहा गया कि आय दोगुनी होगी, लेकिन 3 काले कानून लाकर उनकी आय छीन ली गई.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इसके आगे उन्होंने कहा,

  • ”आज धान खड़ा हुआ है, उसकी पैदावार की कीमत नहीं मिल पा रही है. जब किसान अपना हक लेने के लिए निकला, तो भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों ने उनको टायर से कुचल दिया, किसानों की जान ले ली गई.”

ADVERTISEMENT

  • ”उन्हीं गाड़ी के टायरों से कानून को कुचला जा रहा है. भारतीय जनता पार्टी को नहीं हटाया गया तो उन्हीं टायरों से ये संविधान को कुचल देंगे. इसलिए समाजवादी विजय रथ लगातार जनता के बीच रहेगा.”

  • ”हमारी जो पहचान है कि सभी धर्म-जाति के लोग एक साथ मिलकर रहें, उसको भी चोट पहुंचाने का काम भारतीय जनता पार्टी ने किया है.”

  • ADVERTISEMENT

    जब अखिलेश से पूछा गया- क्या आपको लगता है कि (कांग्रेस नेता) प्रियंका गांधी चुनौती बन रही हैं, विपक्ष के लिए ज्यादा बड़ी चुनौती हैं क्योंकि सीधी लड़ाई होगी तो फायदा आपको मिल सकता है, लेकिन बंटकर लड़ेंगे तो फायदा बीजेपी को हो सकता है?

    इस पर अखिलेश ने कहा, ”आपको सब पता है. उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार को हटाने के लिए समाजवादी पार्टी खड़ी है, समाजवादी पार्टी ने लगातार जनता के बीच में काम किया है और करती रहेगी. जहां तक और दलों का सवाल है, हमने भी गठबंधन किया था. छोटे दलों को इस बार इस बार साथ ले रहे हैं, क्षेत्रीय दलों को साथ ले रहे हैं क्योंकि क्षेत्रीय दलों को साथ लेने में कामयाब हो जाएंगे तो उत्तर प्रदेश में बदलाव जल्दी आ जाएगा.”

    जब एसपी अध्यक्ष से पूछा गया कि यूपी की सियासत में प्रियंका गांधी के एक्टिव होने से क्या उनकी पार्टी को नुकसान होगा, तो अखिलेश ने कहा, ” समाजवादी पार्टी का किसी के एक्टिव होने से नुकसान नहीं होगा. जनता आकलन करेगी कि भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस में कितना फर्क है, उनकी नीतियों में क्या फर्क है.” अखिलेश ने कहा कि इन दोनों पार्टियों के रास्ते एक हैं.

    UP चुनाव 2022: अखिलेश यादव ने शुरू की ‘समाजवादी विजय यात्रा’, BJP ने साधा निशाना

      follow whatsapp

      ADVERTISEMENT