आखिर लोकसभा उपचुनाव के प्रचार में क्यों नहीं उतर रहे हैं अखिलेश यादव?

आखिर लोकसभा उपचुनाव के प्रचार में क्यों नहीं उतर रहे हैं अखिलेश यादव?
एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव.फोटो: चंद्रदीप कुमार/इंडिया टुडे

आजमगढ़ और रामपुर में लोकसभा उपचुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी की पूरी फौज ने दोनों ही जिलों को अपना गढ़ बना लिया है. बीजेपी के बड़े नेता-मंत्री सभी रामपुर और आजमगढ़ में डेरा डालकर बैठे हुए हैं. वे लगातार उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं. वहीं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव इस चुनाव प्रचार में कहीं नजर नहीं आ रहे हैं. यहां तक कि आजमगढ़ में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी एक रैली कर चुके हैं, जहां वह आजमगढ़ को आर्यमानगढ़ बनाने की मांग उठा चुके हैं. ऐसे में अखिलेश का समाजवादी पार्टी का गढ़ कहे जाने वाले आजमगढ़ में अभी तक ना जाना कई सवाल खड़े करता है.

अहम बिंदु

हालांकि अखिलेश जब से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं, तब से आज तक किसी भी उपचुनाव में पार्टी के लिए प्रचार करने नहीं गए हैं. आजमगढ़ में आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी और आजम खान भी प्रचार के लिए जा चुके हैं. ऐसे में यह माना जा रहा है कि अखिलेश को आत्मविश्वास है कि वह दोनो सीटें जीत लेंगे. यही वजह है कि वह चुनाव प्रचार में नजर नहीं आ रहे हैं. पार्टी का मानना है कि वह दोनों ही सीटें आसानी से निकाल रही है.

ये भी कयास लगाए जा रहे...

रामपुर और आजमगढ़ में 23 जून को वोटिंग है. 26 जून को नतीजे आएंगे. कल यानी कि 21 जून चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है. अखिलेश के आजमगढ़ ना जाने की एक वजह यह भी बताई जा रही है कि उन्होंने रामपुर का जिम्मा पूरी तरीके से आजम को सौंपा हुआ है. ऐसे में अगर वह आजमगढ़ जाते हैं और फिर रामपुर नहीं जाते हैं तब यह सवाल उठना लाजमी होगा कि आखिर वह आजमगढ़ गए तो रामपुर क्यों नहीं आए. अखिलेश इस सवाल को खड़ा होने ही नहीं देना चाहते हैं और यही वजह है कि वह लखनऊ में हैं.

सपा का दावा- दोनों सीटें पार्टी के खाते में आ रहीं

फिलहाल बीजेपी ने भी आजमगढ़ में एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है और ऐसे में अखिलेश का आजमगढ़ ना जाना बीजेपी के लिए राह आसान होने वाली बात की तरह है. हालांकि समाजवादी पार्टी का मानना है कि अखिलेश के वहां ना जाने से कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा है और सपा आसानी से रामपुर और आजमगढ़ तो नहीं जगह जीत हासिल कर रही है.

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.
एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव.
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए
एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव.
अग्निपथ को लेकर इस बात पर भड़के अखिलेश, ट्वीट कर कहा- बजट कम हो तो इनसे लिए जाएं पैसे

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in