पुलिस लोगों को वोट डालने से रोक रही, ऐसे चुनाव का क्या फायदा- अब्दुल्ला आजम खान

पुलिस लोगों को वोट डालने से रोक रही, ऐसे चुनाव का क्या फायदा- अब्दुल्ला आजम खान
फोटो: आमिर खान, यूपी तक

उत्तर प्रदेश के रामपुर लोकसभा सीट (Rampur Lok Sabha byelection) पर गुरुवार को उपचुनाव के तहत डाले जा रहे वोटों को लेकर अब्दुल्ला आजम खान ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं. आजम खान के बेटे अब्दुल्ला ने कहा कि ऐसे चुनाव का क्या फायदा. सीधे नतीजा ही घोषित कर देते. इधर आजम खन ने भी गंभीर आरोप लगाते हुए न्यूज एजेंसी ANI से कहा है, 'हम तो सारी रात जागे हैं और हमारे प्रत्याशी संसद के सभी थाने गए हैं...सबसे ज्यादा अभद्र व्यवहार थाना गंज के इंस्पेक्टर ने किया और उसने लोगों के साथ मार-पीट भी की. अगर वोट प्रतिशत गिराई जाती है तो इसका इल्जाम पूरा प्रशासन पर आएगा.'

वोट देने के लिए जाते समय जब आजम खान ने यूपी तक से बात की तो उन्होंने कहा- पूरे बूथ खाले पड़े हुए हैं. किसी को वोट नहीं डालने दिया जा रहा है. ये चुनाव होता है? यह तो हिटलर ने भी नहीं किया होगा. आपको दिख रहा है कि ये निष्पक्ष चुनाव हो रहा है? मेरे कारिंदे थोड़े ही हैं डीएम और एसपी, ये तो सरकार के कारिंदे हैं. वे तो वही करेंगे जो सरकार कहेगी. सरकार निष्पक्ष चाहती तो निष्पक्ष होता."

आजम ने दावा किया कि बीती रात रामपुर में पुलिस ने हिंसा की. उन्होंने कहा कि हमसे बड़ा अपराधी कौन है? तो हमारे साथ जो चाहे करे. मुर्गी, बकरी, भैंस, पुस्तक और फर्नीचर के आरोपी हैं तो हमारे शहर को भी वैसा मना गया है, तो जो चाहे करे..हमें तो सहना है रहना है.

स्क्रीन ग्रैब: अब्दुल्ला आजम खान के ट्विटर से
अहम बिंदु

अब्दुल्ला ने कहा- लोकतंत्र पर ठोके राज भारी

अब्दुल्ला आजम खान ने एक वीडियो ट्विट कर कहा- 'लोकतंत्र पर ठोको राज भारी, बधाई हो मेरा देश बदल रहा है.' वीडियो में हाथ में डंडा लिए पुलिस बल दिख रहा है. यूपी तक से बातचीत में अब्दुल्ला ने कहा लोगों को जिस तरीके से वाट डालने से रोका जा रहा है, उनकी पहचान को देखकर. यहां तक कि जिन लोगों के पास सबकुछ सही है उनको ये कहकर लौटा दिया जाता है कि दो आईडी लेकर आओ. जो दो आईडी लेकर आ रहे हैं उन्हें पोलिंग बूथ के बाहर पुलिस उन्हें मार रही है, भगा रही है. उन्हें वोट डालने से रोक रही है.

...बस किसी सूरत में बीजेपी जीत जाए- अब्दुल्ला

अब्दुल्ला ने कहा कि सरकार यही चाहती है कि बस किसी सूरत में बीजेपी जीत जाए. ऐसे चुनाव से क्या फायदा? सरकारी मिशनरी बेकार हुई. पुलिस लगी. लोगों का एक दिन का रोजगार का हर्ज हुआ. पब्लिक का पैसा बर्बाद हुआ. सीधा नजीता घोषित कर देते. कैसे वोटिंग परसेंटेज बढ़ेगा जब लोगों को घर से निकलते ही पुलिस मारेगी. उठा-उठाकर ले जाएगी तो कौन शरीफ वोट डालने जाएगा. प्रशासन से कुछ नहीं कहना है. जो उन्होंने जो करना है वो किया. कहा उससे जाता है जिसके पास कुछ करने की हिम्मत हो.

UP Tak को दीजिए सुझाव और पाइए आकर्षक इनाम

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.

पुलिस लोगों को वोट डालने से रोक रही, ऐसे चुनाव का क्या फायदा- अब्दुल्ला आजम खान
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए
पुलिस लोगों को वोट डालने से रोक रही, ऐसे चुनाव का क्या फायदा- अब्दुल्ला आजम खान
रामपुर उपचुनाव: आजम बोले- 'सारे बूथ खाली पड़े हैं, ये तो हिटलर ने भी नहीं किया होगा'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in