नमाज के बाद हुई हिंसा पर CM योगी बोले- 'निर्दोष को छेड़ा और दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा'

नमाज के बाद हुई हिंसा पर CM योगी बोले- 'निर्दोष को छेड़ा और दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा'
योगी आदित्यनाथफाइल फोटो: चंद्रदीप कुमार, इंडिया टुडे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर हिंसा और इसके बाद विभिन्न जिलों में शुक्रवार को नमाज के बाद हिंसा का संज्ञान लेकर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की. इस दौरान सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई ऐसी हो जो असामाजिक तत्वों के लिए एक नजीर बने. साथ ही सीएम योगी ने अधिकारियों को यह कार्रवाई जारी रखने का भी निर्देश दिया.

सीएम योगी ने क्या-क्या निर्देश दिए?

अहम बिंदु

सीएम योगी ने कहा, "माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता की जाएगी. ऐसे लोगों के लिए सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं होना चाहिए. एक भी निर्दोष को छेड़ा नहीं जाएगा और कोई भी दोषी छोड़ा नहीं जाएगा."

सीएम ने कहा,

"अपराधियों/माफियाओं के विरुद्ध बुलडोजर की कार्रवाई सतत जारी रहेगी. किसी गरीब के घर पर गलती से भी कोई कार्रवाई नहीं होगी. यदि किसी गरीब/असहाय व्यक्ति ने कतिपय कारणों से अनुपयुक्त स्थान पर आवास निर्माण करा लिया है, तो पहले स्थानीय प्रशासन द्वारा उसका समुचित व्यवस्थापन किया जाएगा.

योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने कहा, "माफिया को संरक्षण देने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा तथा माहौल बिगाड़ने की एक भी कोशिश स्वीकार नहीं की जाएगी. साजिशकर्ताओं/अभियुक्तों की पहचान कर यथाशीघ्र गिरफ्तारी की जाएगी. ऐसे लोगों के विरुद्ध NSA अथवा गैंगस्टर एक्ट के तहत नियम-संगत कार्रवाई की जाएगी.

शनिवार को जारी एक सरकारी बयान के अनुसार योगी ने कहा कि विगत दिनों कानपुर, प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद, हाथरस, फिरोजाबाद, अंबेडकर नगर प्रदेश के विभिन्न जिलों में असामाजिक तत्वों द्वारा सामाजिक शांति-सौहार्द के माहौल को बिगाड़ने का प्रयास किया गया.


उन्होंने कहा कि इससे पहले तीन जून को कानपुर में भी ऐसी ही कोशिश की गई थी और तब भी सतर्कता के निर्देश दिए गए थे, जिससे प्रदेश के ज्यादातर जिलों में शांति बनी हुई और यह शांति व्यवस्था चिरस्थायी रहे, इसके लिए सतर्क सावधान रहना होगा.

गौरतलब है कि तीन जून को कानपुर में उस समय हिंसा भड़क उठी थी जब कुछ लोग बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर कथित विवादित टिप्पणियों को लेकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए जमा हुए थे.

इस घटना में कुछ पुलिसकर्मियों समेत 40 लोग घायल हो गए. दंगाइयों ने पेट्रोल बम भी फेंके और दुकानों तथा वाहनों समेत सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया. शुक्रवार को इसी मामले को लेकर जुमे की नमाज के बाद फिर कई जिलों में हिंसा हुई.

 योगी आदित्यनाथ
'हर शुक्रवार के बाद शनिवार जरूर आता है', CM योगी के मीडिया सलाहकार ने किया ये ट्वीट

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in