window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

बैड टच करते हैं, छेड़ते हैं प्रिंसिपल…बच्चियों ने खून से लिखा था खत फिर हुआ ये ऐक्शन

मयंक गौड़

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Ghaziabad News: गाजियाबाद के एक सरकारी सहायता वाले स्कूल की बच्चियों ने खून से खत लिख दिया, तो बवाल ही मच गया. मासूम बच्चियों के आरोप थे कि स्कूल का प्रधानाचार्य उन्हें ऑफिस में बुलाकर छेड़ता है और बैड टच करता है. खून से खत लिखे जाने के मामले ने जब तूल पकड़ा, तो अब इसमें ऐक्शन देखने को मिला है. गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी प्रिंसिपल राजीव पांडे को गिरफ्तार कर लिया है.

गाजियाबाद के इस स्कूल का पूरा मामला जानिए

गाजियाबाद के बेव सिटी थाना क्षेत्र के शाहपुर बम्हैटा गांव के एक सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं ने अपने खून से सीएम योगी को पत्र लिखा था. छात्राओ ने छेड़छाड़ करने वाले अपने ही स्कूल के प्रधानाचार्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. इस मामले में वेव सिटी पुलिस और यहां तैनात महिला एसीपी के रवैए के खिलाफ भी शिकायत की गई थी.

स्कूल की छात्राओं नेर 4 पेज के लेटर में खून से लिखा कि, ‘प्रिंसिपल हर दिन किसी न किसी लड़की को ऑफिस में बुलाकर छेड़खानी करता है. जब लड़कियां विरोध करती हैं, तो बर्बाद करने की धमकी देता है. पुलिस ‌भी हमें डराती-धमकाती है. बाबाजी हम सब भी आपकी ही बेटियां हैं. हमें न्याय दीजिए.’

छात्राओं का यह लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव ने भी इसे ट्वीट करते हुए इसकी तुरंत जांच कराने की बात कही. अखिलेश यादव के इस ट्वीट को यहां नीचे देखा जा सकता है. मामले के तूल पकड़ते ही गाजियाबाद पुलिस भी हरकत में आई. वेव सिटी थाना पुलिस ने स्कूल के प्रधानाचार्य आरोपी राजीव पांडेय को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

छात्राओं ने घरवालों को बताया, तो खुला मामला

पीड़ित छात्राएं किसान आदर्श हायर सेकेंडरी स्कूल की हैं. 21 अगस्त को यहां की छात्राओं ने प्रिंसिपल राजीव पर अपने रूम में बुलाकर छेड़छाड़ करने की बात अपने परिवार को बताई थी. इसके बाद उनके परिजन और थानीय महिला पार्षद स्कूल पहुंचे. स्कूर पर विवाद होने के बाद परिजनों ने आरोपी प्रधानाचार्य की पिटाई भी कर दी. इसके बाद परिजन थाना बेव सिटी पहुंचे और आरोपी प्रधानाचार्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया.

आरोप है कि प्रिंसिपल ने भी कुछ छात्राओं के पैरेंट्स पर मारपीट को लेकर क्रॉस FIR दर्ज करवा दी. इस मामले में एसपी वेब सिटी ने बताया कि आरोपी प्रिंसिपल डॉक्टर राजीव पांडेय को गिरफ्तार कर रिमांड के लिए कोर्ट के सामने पेश किया जा रहा है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT