window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

‘बाबू आ जाओ न प्लीज’…दिल्ली से महराजगंज पहुंची प्रेमिका, पर प्रेमी ने कर दिया ये बड़ा खेल

अमितेश त्रिपाठी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Maharajganj News: उत्तर प्रदेश के महराजगंज से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. आपको बता दें कि यहां दिल्लीकी रहने वाली लड़की अपने प्रेमी से मिलने पहुंची, लेकिन उसके साथ धोखा हो गया. बता दें कि दोनों की दोस्ती करीब 5 महीने पहले इंस्टाग्राम पर हुई थी. वह घरवालों से बगावत कर महराजगंज बस स्टेशन पहुंची. प्रेमी का इंतजार करने लगी. देर रात तक जब प्रेमी नहीं पहुंचा तो वहां मौजूद दुकानदारों ने पुलिस को सूचित किया. इसके बाद महिला कॉन्स्टेबल के साथ मौके पर पहुंचे पुलिस वाले लड़की को महिला थाने ले गए और उसके परिजनों को दी गई. फिर परिजनों ने एक स्थानीय रिश्तेदार को बुलाकर लड़की को सुपुर्द कर दिया.

‘बाबू आ जाओ, प्लीज…’

आपको बता दें कि यह मामला यूपी के महराजगंज जिले का है. यहां रात करीब आठ बजे बस स्टैंड पर ठंड से कपकपाती एक लड़की सिसक-सिसककर ‘बाबू आ जाओ न प्लीज, आओ ना…’ कहकर रोए जा रही थी. फिर कुछ लोगों ने लड़की से बात करने का प्रयास किया, लेकिन उसने कहा कि अभी थोड़ी देर में उसका बॉयफ्रेंड आने वाला है. करीब तीन घंटे बीत जाने के बाद आसपास के दुकानदारों ने डायल 112 यानी पुलिस को इसकी सूचना दी.

घरवालों से विवाद कर महराजगंज पहुंची थी लड़की

दिल्ली से महराजगंज बस स्टेशन पहुंची लड़की से पुलिस ने पूछताछ की. उसने बताया कि वह दिल्ली के उत्तम नगर थाने के एक मोहल्ले की रहने वाली है और वह यहां अपने प्रेमी के पास आई है. मगर उसका प्रेमी कहीं बिजी होने की वजह से उसे यहां लेने नहीं आ सका है. लड़की ने कहा कि ‘मेरे बॉयफ्रेंड सुबह छह बजे यहां जरूर आएंगे, आप लोग मुझे यहीं रहने दें.’

पुलिस ने लड़की की इस बात को मुनासिब नहीं समझा और उसके प्रेमी से संपर्क करने की कोशिश की. मगर युवक ने अपना फोन बंद कर लिया था. इसके बाद पुलिस लड़की को महिला थाने ले आई और उसकी कॉउंसलिंग की. लड़की ने बताया कि वह अपने परिवार से विवाद कर लड़के के प्यार को पाने के लिए महराजगंज आई है.

मां से बात करते ही…

जब लड़की के प्रेमी से संपर्क नहीं हो पाया तो पुलिस ने नंबर लेकर उसके परिजनों से उसकी बात कराई. जब लड़की ने अपनी मां से बात करनी शुरू की तो वह फूट-फूट कर रोने लगी, उसका गला सूखा जा रहा था. फिर परिजनों के सुझाव पर पुलिस ने एक स्थानीय रिश्तेदार को बुलाकर लड़की को सुपुर्द कर दिया.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पुलिस ने ये बताया

नगर चौकी इंचार्ज अंकित सिंह ने कहा ‘परिजनों से बात करने के बाद रिश्ते में लड़की के मामा को बुलाकर उसे सुपुर्द कर दिया गया है. उसके प्रेमी की तलाश की जा रही है. अगर कोई शिकायत मिलती है, तो अग्रिम कार्रवाई की जाएगी.’

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT