window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

AC कोच में रिजर्वेशन कराकर चोर बनाते थे VIP और विदेशी यात्रियों को निशाना, तरीका जानकर रह जायेंगे हैरान

उदय गुप्ता

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Uttar Pradesh News : दिल्ली हावड़ा रेल रूट के सर्वाधिक व्यस्ततम रेलवे स्टेशनों में शुमार पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन की जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए चलती ट्रेन में चोरी करने वाले एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है.जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.यह गैंग बाकायदा आम पैसेंजर की तरह ट्रेन की फर्स्ट एसी और सेकेण्ड क्लास एसी में रिजर्वेशन करा कर सफर करता था और मौका मिलते ही सहयात्रियों का सामान लेकर रफू चक्कर हो जाता था.पुलिस ने इस गैंग के पास से ट्रेन पैसेंजर्स से चोरी किए गए लाखों रुपए की नकदी के साथ-साथ डॉलर और येन जैसी फारेन करेंसी भी बरामद की है. फिलहाल पुलिस ने इस गैंग के चार साथी सदस्यों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

VIP और विदेशी पैसेंजर को बनाते थे निशाना

बता दें कि चंदौली जिले की पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलवे जंक्शन की जीआरपी की गिरफ्त में मौजूद ये सभी चार लोग चलती ट्रेन में चोरी करने वाली गैंग के सक्रिय सदस्य हैं.यह चारों लोग बिहार के अलग-अलग जिलों के रहने वाले हैं.जो ट्रेनों में अनोखे तरीके से चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे.ट्रेन में चोरी करने वाले इस गैंग के सदस्य बाकायदा ट्रेन के फर्स्ट क्लास और सेकंड क्लास एसी में रिजर्वेशन करा कर सफर करते थे. रात के वक्त जैसे ही सहयात्री सो जाते थे यह लोग उनका बैग, सूटकेस, अटैची,पर्स और मोबाइल आदि चुराकर ट्रेन से उतर जाते थे और रफुचक्कर हो जाया करते थे.

एसी कोच में रिजर्वेशन कराते थे चोर

खास बात यह है कि यह शातिर चोर किसी वीआईपी की तरह एसी क्लास में रिजर्वेशन करा कर ट्रेन में सफर करते थे और साथ में यात्रा करने वाले बड़े लोगों के सामानो पर हाथ साफ कर दिया करते थे. यही नहीं इन्होंने कई विदेशी पैसेंजर को भी अपना निशाना बनाया था.पुलिस ने उनके पास से चार लाख बावन हजार रुपयों के साथ साथ इक्यावन हजार येन और 25 डालर भी बरामद किया है.जिसे इन चोरों ने अलग-अलग ट्रेनों में पैसेंजर से चोरी किया था. फिलहाल पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है और आगे गैंगस्टर की कार्रवाई करने की दिशा में भी काम कर रही है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

रुपयों के साथ डालर भी बरामद

वहीं इस मामले में डिप्टी एसपी जीआरपी वाराणसी परिक्षेत्र के कुंवर प्रभात सिंह ने कहा कि, ‘जीआरपी और आफ द्वारा एक अंतर प्रांतीय चोरों के गैंग को पकड़ा गया है. येलो ट्रेनों में फर्स्ट एसी में सफर करते थे.जो वीआईपी टाइप के और विदेशी सैलानी होते थे उनका टारगेट करते थे और उनके सामानों की चोरी कर लेते थे. इनके कब्जे से चार लाख 52 हजार रुपए भारतीय करेंसी और विदेशी मुद्रा बरामद हुई है. इनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की जाएगी.’

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT