window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

UP चुनाव: ग्रीन बूथ और मत वृक्ष के नए प्रयोग के साथ नवाबों के शहर लखनऊ ने किया वोट

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चौथे चरण में लखनऊ की 9 विधानसभा सीटों पर बुधवार को हुआ मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया. चौथे चरण के मतदान में लखनऊ जिला प्रशासन ने दो ऐसे प्रयोग किए जो अपने आप में अनूठे थे, जो मताधिकार का प्रयोग करने के साथ-साथ पर्यावरण जागरूकता से भी जुड़े थे. बता दें कि लखनऊ जिला प्रशासन की तरफ से प्रदेश का पहला ग्रीन बूथ बनाया गया, तो वहीं लखनऊ कि हर पोलिंग बूथ पर 3 नए वृक्ष भी लगाए गए.

चौथे चरण के मतदान में लखनऊ जिला प्रशासन ने दो नए प्रयास किए. पहला प्रयास कैंट विधानसभा की एपी सेन गर्ल्स इंटर कॉलेज में ग्रीन बूथ बनाया गया. बता दें कि बूथ जाने के रास्ते पर तिरंगे के रंग में गुब्बारे सजे थे. बूथ के अंदर बग्घी खड़ी थी, ताकि वोटर सेल्फी ले सकें. बुजुर्ग और दिव्यांग वोटरों के लिए ई-रिक्शा का भी इंतजाम किया गया था. साथ में पोलिंग बूथ को पेड़ों से सजाया गया था. पावर सप्लाई के लिए सोलर एनर्जी के पैनल लगाए गए थे.

आपको बता दें कि इस ग्रीन बूथ पर सबसे बड़ा आकर्षण सेंड आर्ट थी. लोकतंत्र के पर्व में मताधिकार का प्रयोग करने के संदेश के साथ वाराणसी के फाइन आर्ट्स के छात्र रूपेश ने 2 दिन की मेहनत के बाद यह शानदार सैंड आर्ट तैयार की थी.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का तो दावा है कि लखनऊ में बना ये ग्रीन बूथ देश का पहला ग्रीन बूथ है. उन्होंने कहा कि ये पहला प्रयास है जो पर्यावरण संरक्षण और मताधिकार के प्रयोग का संदेश देता है.

ग्रीन बूथ के साथ लखनऊ जिला प्रशासन ने बुधवार को एक और नया प्रयोग किया. जिला प्रशासन की तरफ से हर पोलिंग बूथ पर 3 वृक्ष लगवाए गए. हर पोलिंग बूथ पर पहुंचने वाले पहले पुरुष मतदाता, पहली महिला मतदाता और पहले बुजुर्ग मतदाता से मत वृक्ष लगवाए गए. इस तरह हर बूथ पर 3 मत वृक्ष लगाए गए.

ADVERTISEMENT

आपको बता दें कि लखनऊ में कुल 1527 पोलिंग बूथ बनाए गए थे. इस तरह लखनऊ में 1 दिन में 4581 पौधों का वृक्षारोपण भी हुआ. वन विभाग की तरफ से हर पोलिंग बूथ पर यह मत वृक्ष पहुंचाए गए थे.

मत वृक्ष के इस अनूठे प्रयोग पर जिला निर्वाचन अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा कि मताधिकार का प्रयोग करना जितना लोकतंत्र के लिए जरूरी है, उतना ही पर्यावरण के लिए वृक्षारोपण. अगर हम अपना वोट देकर लोकतंत्र को बचा रहे हैं तो वृक्ष लगाकर पर्यावरण संरक्षण भी जरूरी है. इसी संदेश को लोगों तक पहुंचाने के लिए मत वृक्ष का प्रयोग किया गया.

ADVERTISEMENT

चौथे चरण सहित अबतक 231 सीटों के लिए हुआ मतदान, एक्सपर्ट्स से समझिए वोटिंग के मायने

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT