लखनऊ के लेवाना होटल में आग: 4 लोगों की मौत, 10 अन्य घायल, होटल मालिक और जीएम हिरासत में
फोटो: समर्थ श्रीवात्सव

लखनऊ के लेवाना होटल में आग: 4 लोगों की मौत, 10 अन्य घायल, होटल मालिक और जीएम हिरासत में

Levana Hotel News | Lucknow Hotel Fire

Lucknow Levana hotel fire: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में चार मंजिला एक होटल में सोमवार सुबह आग लगने से दो महिलाओं समेत चार लोगों की मौत हो गई, जबकि कम से कम दस लोग घायल हो गए. पुलिस ने यह जानकारी दी.

संयुक्त पुलिस आयुक्‍त (कानून-व्यवस्था) पीयूष मोर्डिया ने पत्रकारों को बताया में मामले में पूछताछ के लिए होटल मालिक राहुल अग्रवाल और रोहित अग्रवाल और महा प्रबंधक (जीएम) सागर श्रीवास्तव को हिरासत में ले लिया गया है.

उन्‍होंने कहा कि मामले में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. मोर्डिया ने कहा कि पुलिस महानिदेशक ने प्रदेश भर में ऐसी घटनाओं से बचाव के लिए सभी जिले के पुलिस प्रमुखों को जिम्मेदारी सौंपी है कि कहीं भी अग्नि सुरक्षा के मानकों का उल्लंघन न हो और जहां उल्लंघन हो वहां कड़ी कार्रवाई की जाए.

इस बीच, लखनऊ मंडल की आयुक्‍त और लखनऊ विकास प्राधिकरण की अध्यक्ष रोशन जैकब ने कहा कि इस संबंध में तत्काल सीलिंग की कार्यवाही करते हुए विधि अनुसार प्रक्रिया पूर्ण कर संबंधित होटल के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कराई जाएगी.

आग लगाने की यह घटना हजरतगंज के मदन मोहन मालवीय मार्ग पर स्थित लेवाना सूट होटल में हुई.

उन्होंने बताया कि शुरुआत में 10 लोगों को श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल लाया गया था, जिनमें से दो की मौत हो गयी, वहीं सात लोगों का सिविल अस्पताल में उपचार चल रहा है. एक व्यक्ति को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है.

संयुक्त पुलिस आयुक्‍त (कानून-व्यवस्था) पीयूष मोर्डिया ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘होटल में कमरों की ली जा रही तलाशी के दौरान गंभीर अवस्था में मिले दो और लोगों को सिविल अस्पताल ले जाया गया. चिकित्सकों ने उन्हें मृत लाया गया घोषित कर दिया.’’ उन्होंने कहा कि इस प्रकार मृतकों की संख्या चार हो गई.

मोर्डिया ने पत्रकार वार्ता में बताया कि मृतकों की पहचान नाका हिंडोला (लखनऊ) निवासी गुरनूर सिंह आनंद (28), साहिबा कौर उर्फ जसप्रीत (26) निवासी गणेशगंज (लखनऊ), श्राविका संत (18) निवासी इंदिरा नगर (लखनऊ)) और अमन गाजी उर्फ बाबी (22) खुर्रम नगर (लखनऊ) के निवासी के रूप में हुई है. हालांकि, इससे पहले जिला प्रशासन की ओर से जारी एक बयान में श्राविका संत की उम्र (30) और अमन गाजी उर्फ बॉबी की उम्र 35 वर्ष बताई गयी थी.

घटना की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अस्पताल पहुंचे और उन्होंने घायलों की हालत के बारे में जानकारी ली और अधिकारियों को घायलों का बेहतर इलाज करने के निर्देश दिए.

सूचना निदेशक शिशिर ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पुलिस आयुक्‍त एसबी शिरोडकर और मंडलायुक्त रोशन जैकब को आग लगने की घटना की जांच का जिम्मा सौंपा है.

उन्होंने घायलों को नि:शुल्क और उचित उपचार उपलब्ध कराने का भी निर्देश अधिकारियों को दिया. लखनऊ के पुलिस आयुक्त एसबी शिरोडकर ने बताया कि होटल की इमारत का फॉरेंसिक ऑडिट किया जाएगा.

जैकब ने घटना के बाद एक कार्यालय आदेश में कहा कि '' एलडीए उपाध्यक्ष द्वारा मेरे संज्ञान मे लाया गया कि जोनल अधिकारी ने सात मई को लेवाना होटल को एक नोटिस भेजा था, जिस पर उन्होंने 12 मई को जवाब दिया और 2021 से 2024 तक फायर एनओसी (अनापत्ति प्रमाण पत्र) का नवीनीकरण (प्रमाण पत्र) प्रस्तुत किया। प्रथम दृष्टतया प्रबंधन प्रणाली के अभाव तथा ‘फसाड’ पर लोहे की ग्रिलों के उपरांत भी अग्निशमन की अनापत्ति (एनओसी) कैसे जारी की गयी, यह जांच का विषय है.''

उन्‍होंने कहा कि भवन स्‍वामी द्वारा होटल के रूप में स्वीकृत मानचित्र की कोई प्रति लखनऊ, विकास प्राधिकरण को नहीं प्रस्तुत की गयी है. जोनल अधिकारी ने 26 मई, 2022 को नोटिस भी जारी किया तथा इस नोटिस का जवाब नहीं मिलने पर 28 अगस्‍त को दोबारा नोटिस जारी किया गया.

उन्‍होंने कहा कि इस संबंध में तत्काल सीलिंग की कार्यवाही करते हुए विधि अनुसार प्रक्रिया पूर्ण कर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कराई जाए.

जैकब ने यह भी कहा कि होटल का नक्‍शा पास हुए बिना होटल का संचालन कराने में लिप्त अधिकारियों और कर्मचारियों को चिह्नित करते हुए उनके विरुद्ध प्रभावी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए.

उन्‍होंने लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा पूर्व में अन्य होटलों के लिए जारी नोटिस के बाद भी होटल मालिकों द्वारा अभिलेख प्रस्तुत न किये जाने पर उन होटलों के सीलिंग के निर्देश दिये हैं.

जैकब ने लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष को कार्रवाई की जिम्मेदारी दी है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सुबह करीब सात बजे आग लगी जिससे इलाके में दहशत फैल गई. उन्होंने बताया कि आग की लपटों व धुएं से पूरा होटल घिरा दिखा.

होटल से फंसे लोगों को निकालने का प्रयास शुरू होते ही भीड़ जमा हो गई. दमकलकर्मियों को आग पर काबू पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी.

उन्होंने आग बुझाने में मदद के लिए पहली मंजिल पर एक दीवार को तोड़ने के लिए बुलडोजर का भी इस्तेमाल किया.एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा मोचन बल) और एसडीआरएफ (राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल) की टीम को भी बचाव अभियान में लगाया गया था.

जिला अधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने पत्रकारों को बताया, ‘‘ दमकल कर्मी आग पर काबू पाने के काम में लगे हैं, अधिकतर लोगों को बाहर निकाल लिया गया है और उन्हें अस्पताल ले जाया गया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘होटल के मालिक ने बताया कि होटल में 30 कमरे हैं और घटना के समय उनमें से 18 कमरे बुक थे. वहां 35-40 लोग थे और कुछ लोग सुबह होटल से चले गए थे.’’

आग लगने के कारणों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ शायद शॉर्ट-सर्किट के कारण आग लगी है, सटीक कारणों का पता लगाया जा रहा है. होटल के मालिक ने बताया है कि पहली मंजिल पर एक बैंक्वेट था जहां कुछ हुआ था.’’ लोगों के मुताबिक होटल की छत पर एक ‘बार’ भी है.

घायलों में दमकलकर्मी चंद्रेश यादव भी शामिल हैं, जो लोगों को बचाने के दौरान झुलस गए थे. रक्षा मंत्री और लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने भी घटना पर दुख व्यक्त किया.

उन्होंने ट्वीट किया, “लखनऊ के एक होटल में आग लगने की दुखद घटना की मुझे जानकारी प्राप्त हुई. स्थानीय प्रशासन से मैंने स्थिति की जानकारी ली है. राहत और बचाव कार्य जारी है। मेरा कार्यालय लगातार स्थानीय प्रशासन के सम्पर्क में है. मैं घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना करता हूं.’’

उप मुख्‍यमंत्री ब्रजेश पाठक भी घायलों का हाल चाल जानने अस्पताल पहुंचे. उपमुख्यमंत्री पाठक ने कहा कि घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. मंत्री ने कहा कि घायलों का मुफ्त इलाज किया जाएगा.

उन्होंने कहा, “हम यह भी देखेंगे कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो और इसके लिए पूरे राज्य के लिये निर्देश जारी किए जाएंगे.’’

समाजवादी पार्टी की ओर से जारी एक बयान में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राजधानी लखनऊ के होटल में हुए अग्निकांड को दुःखद बताते हुए मृतकों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना जताई है.

यादव ने अग्निकांड में घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए कहा कि सरकार घायलों के समुचित इलाज का इंतजाम करें.

लखनऊ के लेवाना होटल में आग: 4 लोगों की मौत, 10 अन्य घायल, होटल मालिक और जीएम हिरासत में
लखनऊ के लेवाना होटल में आग, कुछ दिनों पहले ही मिली थी LDA की नोटिस, आज हो गया बड़ा हादसा

Related Stories

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in