इत्र कारोबारी पीयूष जैन इनकम टैक्स भरने को राजी! इतनी बड़ी रकम कि जीरो गिनते रह जाएंगे आप

इत्र कारोबारी पीयूष जैन इनकम टैक्स भरने को राजी! इतनी बड़ी रकम कि जीरो गिनते रह जाएंगे आप
फोटो कोलाज: यूपी तक

जीएसटी इंटेलिजेंस महानिदेशालय और राजस्व खुफिया निदेशालय के बाद, आयकर विभाग ने भी कानपुर स्थित इत्र कारोबारी पीयूष जैन के खिलाफ जांच शुरू की है. पीयूष जैन से जेल में पूछताछ करने के बाद, एजेंसी के सूत्रों ने पुष्टि की है कि जैन ने उस आयकर का भुगतान करने की पेशकश की है, जिसके लिए वह उत्तरदायी है.

मिली जानकारी के अनुसार, पीयूष जैन के परिसर से की गई जब्ती की कुल राशि पर आयकर ने 87 फीसदी टैक्स तय किया है, जो करीब 187 करोड़ रुपये है. आपको बता दें कि कर एजेंसी ने पीयूष जैन के परिसर से करीब 197 करोड़ रुपये नकद, 23 किलो सोना (बाजार मूल्य के अनुसार 11 करोड़ रुपये) और 6 करोड़ रुपये मूल्य का 600 किलो चंदन का तेल बरामद किया था.

कानपुर के व्यवसायी पीयूष जैन ने स्व-मूल्यांकन के बाद पहले ही ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGGI) अहमदाबाद इकाई के खाते में 54 करोड़ रुपये जमा कर दिए थे. हालांकि डीजीजीआई ने अभी तक पीयूष जैन पर जुर्माने की गणना नहीं की है, लेकिन एजेंसियों के सूत्रों के अनुसार यह राशि 60 करोड़ से अधिक होने की उम्मीद है.

पीयूष जैन ने अपने घर से मिले सोने के लिए 4 करोड़ आयात शुल्क का भुगतान किया था, लेकिन जैन को अभी तक सोने की अवैध तस्करी के लिए जुर्माना नहीं भरा है.
कुल मिलाकर पीयूष जैन ने कर और शुल्क के रूप में 58 करोड़ रुपये जमा कर दिए हैं. वहीं, जैन को 187 करोड़ रुपये का भुगतान आयकर के रूप में करना होगा. बता दें कि DGGI और DRI द्वारा जैन पर जुर्माना की सही राशि की गणना करने के बाद, कुल राशि 250 करोड़ रुपये से ऊपर जाने की उम्मीद है.

UP Tak को दें सुझाव और पाएं आकर्षक इनाम

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.

इत्र कारोबारी पीयूष जैन इनकम टैक्स भरने को राजी! इतनी बड़ी रकम कि जीरो गिनते रह जाएंगे आप
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in