ब्राह्मण था लड़का, पिछड़ी जाति की लड़की, प्रेम की दुश्वारियों में चुन लिया 'आखिरी रास्ता'

ब्राह्मण था लड़का, पिछड़ी जाति की लड़की, प्रेम की दुश्वारियों में चुन लिया 'आखिरी रास्ता'
फोटो: प्रशांत पाठक, यूपी तक

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में एक प्रेमी युगल ने कथित तौर पर ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी है. खबर है कि दोनों कई सालों से एक-दूसरे से बेहद मोहब्बत करते थे, लेकिन दोनों के परिवारों की जातियां उनके रिश्ते में आड़े आ गईं. लड़का ब्राह्मण समाज से ताल्लुक रखता था, तो लड़की पिछड़ी जाति से थी. इस कारण परिवार वाले दोनों के रिश्ते को लेकर राजी नहीं थे. इस बात पर आए दिन घर में झगड़ा होता था. ऐसा कहा जा रहा कि जब प्रेमी युगल को लगा कि उनके रिश्ते को उनका परिवार और समाज स्वीकार नहीं करेगा तो उन्होंने ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है.

क्या है मामला?

समाज और परिवार के कारण जीते जी एक ना हो सके, तो प्रेमी युगल ने मौत को गले लगाने का फैसला कर लिया. मामला हरदोई शाहाबाद कोतवाली क्षेत्र के भगवान नगरिया गांव का है, जहां के एक ब्राह्मण युवक का, पिछड़ी जाति की लड़की से प्रेम संबंध था. दोनों कई वर्षों से एक दूसरे से मोहब्बत करते थे, लेकिन युवक के परिवार वालों को यह रिश्ता कतई मंजूर नहीं था इसको लेकर उसके घर में विवाद होता रहता था.

ऐसा कहा जा रहा है कि जब दोनों को लगा की समाज और परिवार उनके इस रिश्ते को स्वीकार नहीं करेगा तो उन्होंने 'मौत को गले' लगाने का फैसला कर लिया. दोनों अपने-अपने घरों से निकले और कुछ देर बाद खबर आ गई की आंझी स्टेशन के पास ही की तीन किलोमीटर की तरफ दोनों के कटे हुए शव पड़े हैं. घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची जीआरपी और पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया है. पुलिस पूरे मामले में जांच के बाद विधिक कार्रवाई का दावा कर रही है.

ब्राह्मण था लड़का, पिछड़ी जाति की लड़की, प्रेम की दुश्वारियों में चुन लिया 'आखिरी रास्ता'
हरदोई: RSS के पथ संचलन पर मुस्लिमों ने की फूलों की बारिश, लगाए वंदे मातरम के नारे

संबंधित खबरें

No stories found.