window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

रीफा के साथ मौज करने के लिए नोएडा आना रहमान को पड़ा काफी भारी, अब पछता रहा, आखिर हुआ क्या?

यूपी तक

ADVERTISEMENT

Noida
Noida
social share
google news

UP News: मुरादाबाद के रहने वाले असादुर रहमान की पिछले कुछ दिनों से रीफा नाम की युवती से फोन और सोशल मीडिया पर बात हो रही थी. दोनों के बीच अच्छी दोस्ती हो गई थी. ऐसे में असादुर रहमान को लगा कि रीफा से एक बार तो मिलना ही चाहिए. रीफा भी असादुर से मिलना चाहती थी. ऐसे में रीफा ने भी उससे कहना शुरू कर दिया कि वह नोएडा आए और यहां मौज-मस्ती करेंगे. रीफा की बात सुनकर असादुर रहमान अपनी गाड़ी से मुरादाबाद से नोएडा आ पहुंचा. मगर यहां उसके साथ जो हुआ, अब असादुर रहमान पछता रहा है कि वह नोएडा रीफा से मिलने आया ही क्यों?

दरअसल रीफा नाम की महिला ने असादुर रहमान को नोएडा मिलने और मौज़ मस्ती करने के लिए बुलाया था. लेकिन युवक को कहां पता था कि उसे नोएडा एक साजिश के तहत बुलाया गया था. जब युवक अपने एक दोस्त निजाम के साथ नोएडा के पी-3 गोल चक्कर पर पहुंचा तब उसकी गाडी में कुछ बदमाश आ धमके और उसके साथ मारपीट करने लगे. बदमाशों ने उनसे पैसे मांगे और पैसा नहीं देने पर फर्जी रेप केस में उसे और उसके दोस्त को फंसाने की धमकी देने लगे. ऐसे में दोनों ने 50 हजार रुपये गाड़ी में बैठे बदमाशों को दे दिए. तब जाकर उन्हें समझ में आया कि गाड़ी में बैठे बदमाश दरअसल रीफा के ही साथी थे और वह हनी ट्रैप का शिकार हो चुके हैं.

हनी ट्रैप का गजब मामला

दरअसल नोएडा पुलिस ने रीफा समेत उसके पूरे गैंग को गिरफ्तार कर लिया है. ये लोग नोएडा में हनी ट्रैप नेटवर्क चला रहे थे. इनके निशाने पर मुरादाबाद का रहने वाला असादुर रहमान आ गया था. रीफा लगातार असादुर से बात करती थी और उसने अपने जाल में उसे पुरी तरह से फंसा दिया था.  

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बता दें कि जैसे ही युवक अपने दोस्त से साथ नोएडा पहुंचा, रीफा ने अपने गैंग को फोन करके बता दिया कि मुर्गा फंस चुका है. जल्दी आ जाओ. रीफा ने ये भी बता दिया कि वह किस गाड़ी में हैं. इतने में रीफा, असादुर से मिलने उसकी गाड़ी में बैठ गई. तभी अचानक रीफा के सभी साथी गाड़ी में जबरन आ बैठे और सभी असादुर और उसके दोस्त निजाम के साथ मारपीट करने लगे. 

5 लाख रुपय मांगे

वह सभी असादुर और उसके साथी को डराने-धमकाने लगे. उन दोनों के साथ मारपीट करने लगे. इसके बाद उन्होंने 5 लाख की मांग की और कहा कि अगर रुपये नहीं मिलेंगे तो वह दोनों को रेप केस में फंसा देंगे. ये सुन दोनों युवक डर गए और उन्होंने गाड़ी में रखे 50 हजार रुपये दे डाले. 

ADVERTISEMENT

घटना के बाद पीड़ित ने पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी. मामले की जांच करके पुलिस ने  रीफा समेत 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने गैंग के मास्टरमाइंड राज चौधरी, संजना यादव, भूपेन्द्र सिंह, फैजान अहमद, राहुल कुमार, रीफा को पकड़ा है. पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि 20 दिन पहले भी इन लोगों ने एक शख्स को इसी तरह से अपना शिकार बनाया है. फिलहाल ये पूरा मामला चर्चाओं में बना हुआ है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT