मनीष गुप्ता डेथ केस: गोरखपुर SSP ने बताया अबतक क्यों गिरफ्तार नहीं हुए आरोपी पुलिसवाले

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की गोरखपुर में हुई संदिग्ध मौत के मामले में एसएसपी गोरखपुर विपिन टाडा ने यूपी तक को बताया कि FIR में नामजद आरोपी पुलिसकर्मी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं. आरोपी पुलिसकर्मियों के गिरफ्तारी की कोशिश की जा रही है, इसके लिए टीमें गठित कर तलाश की जा रही है. एक टीम कानपुर भेजी जाएगी और पीड़िता का बयान दर्ज कर जल्द विवेचना पूरी की जाएगी.

एसएसपी गोरखपुर विपिन टाडा के मुताबिक, इस मामले में जो नामजदगी हुई है वो मृतक की पत्नी की तहरीर पर हुई है. उन्होंने बताया कि इस मामले में 6 पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिए गए हैं.

बता दें कि 27-28 सितंबर की रात को गोरखपुर के एक होटल में पुलिस की दबिश के बाद कानपुर के रहने वाले मनीष गुप्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी. पुलिस वालों पर आरोप है कि नशे में उन्होंने मनीष गुप्ता की पिटाई कर दी, जिससे मनीष की मौत हो गई.

गौरतलब है कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 30 सितंबर को मृतक मनीष की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी. इसके अलावा समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मीनाक्षी गुप्ता और पीड़ित परिजनों से मिले थे.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

कानपुर के मनीष गुप्ता की संदिग्ध मौत: दोस्त का दावा, सीएम सिटी की तारीफ सुन आए थे गोरखपुर

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT