window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

तस्करों की चालाकी पर भारी पड़ी चंदौली पुलिस की सतर्कता! ₹50 लाख की अवैध शराब यूं की जब्त

उदय गुप्ता

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Chandauli News: बिहार में पिछले कई सालों से शराबबंदी कानून लागू है. मगर इसके साथ ही अन्य प्रदेशों से बिहार में शराब की तस्करी रुकने का नाम नहीं ले रही है. बिहार सीमा से सटे पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली में पुलिस ने एक बार फिर बिहार में शराब तस्करी के खेल का पर्दाफाश किया है और तकरीबन 50 लाख रुपये कीमत की शराब जब्त की है. इस मामले में पुलिस ने एक शराब तस्कर को गिरफ्तार भी किया है. खास बात यह है कि शराब की इस खेप को उत्तराखंड से बिहार ले जाया जा रहा था. चंदौली पुलिस अब इस पूरे मामले की छानबीन में जुटी हुई है और इस शराब तस्करी के खेल में शामिल लोगों की तलाश कर रही है.

क्या है पूरा मामला?

गौरतलब है कि जब से बिहार में शराबबंदी कानून लागू हुआ है, तो उसके बाद से ही हरियाणा और अन्य प्रदेशों से बिहार में शराब की तस्करी की शुरुआत हो गई थी जो बदस्तूर जारी है. इस मामले में उत्तर प्रदेश, बिहार सीमा पर सटे पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली की पुलिस ने अब तक करोड़ों रुपये की कीमत की शराब जब्त की है, जिसे तस्करी के माध्यम से अवैध तरीके से बिहार में ले जाया जा रहा था.

मगर इस बार चंदौली पुलिस और जिले की सर्विलांस टीम ने जो शराब की खेप पकड़ी है, उसे हरियाणा से नहीं बल्कि उत्तराखंड से अवैध तरीके से लाकर बिहार की तरफ भेजा जा रहा था. शराब की यह खेप उत्तराखंड की बनी हुई देशी शराब है. हालांकि इस मामले में जिस तरह तस्कर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, वह हरियाणा के सोनीपत का रहने वाला है.

दरअसल, बिहार सीमा पर स्थित उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले की पुलिस लगातार शराब तस्करी को रोकने के लिए मुहिम चला रही है. इसी मुहिम के क्रम में चंदौली की सर्विलांस टीम और चंदौली सदर कोतवाली की पुलिस को इंफॉर्मेशन मिली कि शराब की एक बड़ी खेप को बिहार की तरफ ले जाया जा रहा है. इस सूचना पर चंदौली पुलिस और चंदौली की सर्विलांस टीम ने नेशनल हाईवे 2 पर नाकेबंदी की और एक ऐसे ट्रक को पकड़ा, जिसमें बाहर से तो जीरा के पौधे के डंठल रखे हुए थे, लेकिन उसके अंदर जब तलाशी ली गई तो पुलिस हैरान रह गई.

पुलिस से बचने के लिए शराब के तस्करों ने जीरा के दलों के बीच उत्तराखंड में निर्मित देसी शराब की तकरीबन 800 बॉक्स बरामद किए. पुलिस के अनुसार बरामद की गई इस शराब की कीमत तकरीबन 50 लाख रुपये है. पुलिस ने इस मामले में एक शराब तस्कर को गिरफ्तार किया है जो हरियाणा के सोनीपत का रहने वाला है. पुलिस अब इस गिरफ्तार व्यक्ति की निशानदेही पर इस बैंक के बाकी सदस्यों की तलाश में जुट गई है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

चंदौली: छठ पूजा के दौरान नहर की पुलिया का एक हिस्सा भरभरा कर गिरा, मच गई चीख-पुकार

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT