प्रेमिका की हत्या की, शव को लोहे के बक्से में भरकर लगाया ठिकाने, ऐसे पुलिस ने आरोपी को दबोचा

महेश जायसवाल

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां किशोरी का लोहे के बक्से में जला हुआ शव मिलने से हड़कंप मच गया है. पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी ने लड़की की वाराणसी में एक कमरे में गला दबाकर, सिर जमीन पर पटक कर हत्या की और उसके शव को एक लोहे के बक्से में पैक कर उसे ठिकाने लगाने के लिए बाइक से निकला था.

वाराणसी से करीब चालीस किलोमीटर दूर भदोही में नेशनल हाइवे के किनारे उसने शव को ठिकाने लगाया और अपनी बाइक से पेट्रोल निकालकर लड़की का चेहरा जलाया था. पुलिस ने बताया कि किशोरी किसी और लड़के से बात करती थी जिससे आरोपी ने उसकी हत्या कर दी.

क्या है पूरा मामला?

आरोपी उपेंद्र श्रीवास्तव को मीडिया के सामने पेश करते हुए पुलिस ने बताया कि यह पूरी घटना वाराणसी में घटित हुई है. उपेंद्र श्रीवास्तव एक मल्टीनेशनल कंपनी में सेल्समैन है. उसके पड़ोस की एक 16 वर्षीय लड़की से उसकी जान पहचान हुई और धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे के बेहद नजदीक आ गए. इसके लिए उपेंद्र ने वाराणसी के महामानापुरी कॉलोनी में एक किराए का कमरा लिया, जहां उपेंद्र लड़की के साथ दिन गुजारा करता था.

रात होते ही दोनों अपने-अपने घर चले जाते थे, लेकिन इसी बीच उपेंद्र को शक हो गया कि वह लड़की किसी और लड़के से भी बात करती है. इस बात को लेकर दोनों में विवाद होने लगा.

पुलिस ने आगे बताया कि बीते एक सितंबर को उपेंद्र अपनी प्रेमिका को उसके घर से रिसीव करते हुए अपने कमरे पर ले गया, जहां पर पहले दोनों ने घंटों का वक्त साथ में बिताया और बाहर से खाना मंगाकर साथ खाया. बाद में उपेंद्र ने लड़की को किसी दूसरे लड़के से बात करने के लिए मना किया. इसी बात को लेकर कुछ कहासुनी हुई, जिसके बाद उपेंद्र ने लड़की का पहले गला दबाया और उसके सिर को जमीन पर पटक कर उसकी जान ले ली. जब उसे लगा की वह मर गई है तब वह बाजार से एक लोहे का बक्सा ले आया और लाश को उसे बक्से में पैक किया. बक्से को बाइक के पीछे रखकर लड़की के शव को ठिकाने लगाने के लिए बनारस से भदोही की तरफ बढ़ने लगा. बनारस से करीब 40 किलोमीटर दूर भदोही में गोपीगंज थाना क्षेत्र स्थित नेशनल हाईवे के किनारे लाला नगर में उसने सुनसान इलाका देखकर बाइक से लोहे का बक्सा उतारा और अपनी बाइक की टंकी से पेट्रोल निकाल कर बक्से में आग लगा दी. उसने लड़की का चेहरा भी जला दिया, ताकि लड़की को कोई पहचान ना सके.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बाद में आसपास के लोगों ने जब बक्से में लड़की का जला हुआ शव देखा तो पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजते हुए पूरे मामले की जांच पड़ताल में लग गई. इस दौरान पुलिस ने सैकड़ों सीसीटीवी कैमरा के फुटेज खंगाले. इस दौरान पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज भी हाथ लग गया, जिसमें आरोपी बाइक लोहे का बॉक्स लेकर उस इलाके की तरफ जाता हुआ दिखाई दे रहा है, जहां पर लड़की का शव मिला था. फुटेज के आधार पर पुलिस ने अपनी जांच पड़ताल तेज करते हुए इस मामले में आरोपी उपेंद्र श्रीवास्तव को गिरफ्तार कर लिया. उसके पास से उसकी बाइक भी बरामद की गई है.

भदोही की पुलिस अधीक्षक डॉ. मीनाक्षी कात्यायन ने बताया कि 2 सितंबर को हमें सूचना मिली थी कि किशोरी की जली हुई हालत में बक्से में शव मिला था. सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शिनाख्त की कार्रवाई शुरू की थी. यह एक ब्लाइंड मर्डर था और पुलिस के लिए चुनौती भरा काम था, क्योंकि लड़की की आइडेंटिटी को डिस्ट्रॉय कर दिया गया था. उसका फेस पूरा जला हुआ था, लेकिन फिर भी थाना गोपीगंज और सर्विलांस, एसओजी स्वाट टीम ने पूरी रात मेहनत करते हुए अपने विवेक का परिचय देते हुए सीसीटीवी कैमरा के माध्यम से इस घटना को ट्रेस किया.

उन्होंने आगे बताया कि अल्टीमेटली अपराधी तक हम लोग पहुंचे, जिसने घटना को अंजाम दिया था. लड़की का प्रेम प्रसंग किसी और से भी चल रहा था. प्रेम प्रसंग के मामले में छुब्ध होकर आरोपी ने उसकी हत्या की थी.

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT