कुख्यात लॉरेंस बिश्नोई गैंग के 4 सदस्य आगरा में गिरफ्तार, आखिर ये बदमाश यहां क्या रहे थे?

अरविंद शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Agra News: उत्तर प्रदेश के आगरा में लॉरेंस बिश्नोई गैंग के चार सदस्यों को पुलिस ने दबोच लिया है. जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर जैदपुर इलाके में खूंखार गैंग के सदस्यों को मुठभेड़ के बाद पुलिस ने गिरफ्त में लिया है. पहले गैंग के तीन जयप्रकाश, ऋषभ और प्रदीप शुक्ला गिरफ्तार किए गए. पुलिस पूछताछ में तीनों ने गैंग के चौथे सदस्य भूपेंद्र के बारे में जनकारी दी. पुलिस ने नहटौली तिराहे दुर्गा मंदिर जैतपुर के पास से चौथे बदमाश की घेराबंदी कर ली. आरोप है कि पुलिस टीम ने बदमाश भूपेंद्र से आत्मसमर्पण के लिए कहा तो बदमाश ने पुलिस पर फायरिंग कर दी. जवाब में पुलिस ने भी कार्रवाई की और बदमाश भूपेंद्र को गिरफ्तार कर लिया. भूपेंद्र के कब्जे से पुलिस टीम ने 3 पिस्टल, 6 मैगजीन और 7 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं.

आपको बता दें कि आरोपी जयप्रकाश और ऋषभ राजस्थान के रहने वाले हैं, जबकि प्रदीप शुक्ला और भूपेंद्र बाह थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं. लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्यों पर जयपुर के होटल मालिक अक्षय गुरनानी पर फायरिंग करने का मुकदमा दर्ज है. 1 करोड़ की रंगदारी न देने पर लॉरेंस के शूटरों ने होटल संचालक पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई थीं.

पंजाबी सिंगर सिद्धू मुसेवाला की हत्या में भी लॉरेंस गैंग का नाम सामने आया था. कुख्यात अपराधी लॉरेंस बिश्नोई ने अभिनेता सलमान खान को मौत के घाट उतारने की धमकी भी दी थी. 

ऐसे में आगरा में इन बदमाशों की मौजूदगी बड़े सवाल उठा रही है. लॉरेंस के शूटर आगरा में छिपने आए थे या उन्हें किसी बड़ी वारदात को अंजाम देना था? ये सवाल भी पुलिस के सामने अभी बना हुआ है. पुलिस इस सवाल पर गैंग के सदस्यों से पूछताछ कर रही है.

पुलिस उपायुक्त (आगरा पूर्वी) ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. आरोपियों से पूछताछ कर उनके आगरा आने के उद्देश्य के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT