लखीमपुर खीरी: SP ने कहा- 'जबरन नहीं, स्वेच्छा से मोटरसाइकिल पर बैठकर गई थीं लड़कियां'

लखीमपुर खीरी न्यूज़ | UP News Hindi | Murder News
लखीमपुर खीरी: SP ने कहा- 'जबरन नहीं, स्वेच्छा से मोटरसाइकिल पर बैठकर गई थीं लड़कियां'
फोटो: यूपी तक

Lakhimpur Kheri News: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के निघासन क्षेत्र में बुधवार शाम एक खेत में दो सगी बहनों के शव पेड़ पर फंदे से लटके मिले. दोनों लड़कियां दलित समुदाय की थीं. इस घटना को लेकर गुरुवार सुबह लखीमपुर खीरी प्रशासन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान एसपी संजीव सुमन ने वारदात का खुलासा करने का दावा किया.

एसपी ने कहा,

"छोटू (मुख्य आरोपी बताया जा रहा है) ने तीन लोगों से महिला का परिचय कराया था. कल (बुधवार) दोपहर के समय ये तीनों लड़के बाइक लेकर गांव में आए थे और लड़कियों को बहला कर ले गए. लड़कियां अपनी इच्छा से गई थीं. पहले इन्हें खेत ले गए, वहां इच्छा के विरुद्ध उनसे शारीरिक संबंध बनाए. महिला ने उनसे शादी करने की बात कही और वो जिद पर अड़ गई. इस बात से नाराज हो कर लड़कियों की हत्या कर दी गई. इसके बाद इन तीन लड़कों ने दो और लड़कों को फोन करके बुलाया."

संजीव सुमन

अहम बिंदु

एसपी ने आगे कहा, "अब मौके पर 5 लोग हो गए थे. इन सभी ने साक्ष्य मिटाने की दृष्टि से उन दोनों लड़कियों को पेड़ पर फंदे से लटका दिया था. इतनी घटना हमारे संज्ञान में आई है. पोस्टमॉर्टम की कार्रवाई के बाद और डिटेल इन्वेस्टिगेशन करेंगे. फिलहाल वे सभी 6 लोग जो इस घटना में कहीं न कहीं से इन्वॉल्व हैं, वे सभी हमारी हिरासत में हैं और उन्हें तत्काल जेल भेजा जा रहा है."

बता दें कि लड़कियों की मां ने दावा करते हुए कहा था कि आरोपी उनकी बच्चियों को जबरन घसीटते हुए ले गए थे.

आपको बता दें कि इससे पहले लड़कियों की मां तहरीर पर पुलिस ने घर में घुसकर मारपीट, हत्या, रेप और पॉक्सो एक्ट (Pocso Act) में केस दर्ज किया था. खबर मिली है कि गुरुवार को पोस्टमॉर्टम के बाद दोपहर के बाद दोनों बहनों का अंतिम संस्कार किया जाएगा.

विपक्ष सरकार पर हमलावर

मामला सामने के आने के बाद समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और कांग्रेस ने राज्य सरकार को घेरने का प्रयास किया है.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इस घटना की तुलना हाथरस कांड से करते हुए ट्वीट किया, ‘‘निघासन पुलिस थाना क्षेत्र में दो दलित बहनों को अगवा करने के बाद उनकी हत्या और उसके बाद पुलिस पर पिता का ये आरोप बेहद गंभीर है कि बिना पंचनामा और सहमति के उनका पोस्टमार्टम किया गया. लखीमपुर में किसानों के बाद अब दलितों की हत्या ‘हाथरस की बेटी’ हत्याकांड की जघन्य पुनरावृत्ति है.

मायावती ने कहा, "लखीमपुर खीरी में मां के सामने दो दलित बेटियों का अपहरण व दुष्कर्म के बाद उनके शव पेड़ से लटकाने की हृदय विदारक घटना सर्वत्र चर्चाओं में है, क्योंकि ऐसी दुःखद व शर्मनाक घटनाओं की जितनी भी निंदाकी जाए वह कम. यूपी में अपराधी बेखौफ हैं, क्योंकि सरकार की प्राथमिकताएं गलत."

वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘लखीमपुर में दो बहनों की हत्या की घटना दिल दहलाने वाली है. परिजनों का कहना है कि उन लड़कियों का दिनदहाड़े अपहरण किया गया था. रोज अखबारों व टीवी में झूठे विज्ञापन देने से कानून व्यवस्था अच्छी नहीं हो जाती. आखिर उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराध क्यों बढ़ते जा रहे हैं? कब जागेगी सरकार?’’

लखीमपुर खीरी: SP ने कहा- 'जबरन नहीं, स्वेच्छा से मोटरसाइकिल पर बैठकर गई थीं लड़कियां'
लखीमपुर खीरी घटना महिला सुरक्षा मामले में सरकार के दावों की जबर्दस्त पोल खोलती है: मायावती

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in