कानपुर: अपने बेटे को मारना चाहता था पिता? गलती से साले के बेटे को उठा लिया, किया ये अंजाम

कानपुर: अपने बेटे को मारना चाहता था पिता? गलती से साले के बेटे को उठा लिया, किया ये अंजाम
फोटो: रंजय सिंह

Kanpur news: उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक पिता पर आरोप है कि वह अपने बच्चे की हत्या करना चाहता था लेकिन वह गलती से अपने साले के 5 महीने के बच्चे को अपना बेटा समझकर उठा ले गया और उसकी हत्या कर डाली. कानपुर से आई इस हैरान कर देने वाली खबर को सुनकर हर कोई हैरान है.

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी युवक को लगता था कि उसकी पत्नी ने 5 महीने पहले जिस बच्चे को जन्म दिया है वह उसका खून नहीं है. इसे लेकर वह अपने रिश्ते के साले को हमेशा अपने बच्चे को मार डालने की धमकी देता था. बताया जा रहा है कि आरोपी के रिश्ते के साले की पत्नी ने भी 5 महीने पहले ही बच्चे को जन्म दिया था. ऐसे में आरोपी युवक ने अपना बच्चा समझकर अपने साले का बच्चा उठा लिया. आरोप है कि आरोपी ने उसे जिंदा ही नदी में फेंक दिया.

नदी में तैरती मिली लाश

मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित के परिजन लगातार मामले में कार्रवाई की मांग करते रहे लेकिन कार्रवाई नहीं की गई. घटना के 4 दिन बाद बच्चे का शव नदी में तैरता मिला तब मामले में मुकदमा दर्ज किया गया. पुलिस द्वारा आरोपी फूफा की तलाश जारी है.

पिता को था अपने ही बेटे पर शक

सबसे हैरान कर देने वाली बात यह है कि पिता को अपने ही बेटे पर शक था कि वह उसका खून है या नहीं. मगर इस शक का शिकार सगे साले का मासूम बेटा हो गया. म़तक मासूम के पिता का नाम रिंकू है. उसकी बहन की शादी देशराज नामक युवक से हुई है. आरोपी देशराज के 5 महीने पहले बेटा हुआ तो आरोपी ने अपने साले रिंकू को धमकी दी की यह मेरा बेटा नहीं है और मैं इसे मार डालूंगा. इसके कुछ ही समय बाद रिंकू की पत्नी ने भी बेटे को जन्म दे दिया. परिवार का मानना था कि कुछ ही दिनों में देशराज का गुस्सा कम हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

ऐसे दिया घटना को अंजाम

मिली जानकारी के अनुसार, बीते 14 नवंबर को रिंकू की पत्नी घर में अकेली थी. उसका अपना बेटा घर में नीचे सो रहा था जबकि आरोपी देशराज की पत्नी सीता का बेटा ऊपर छत पर सोया था. इसी दौरान रिंकू का नीचे सोया मासूम अचानक गायब हो गया. इस घटना से गांव में हड़कंप मच गया. घटना का शक फौरन आरोपी बहनोई देशराज पर हुआ. सभी को लगा कि आरोपी देशराज अपने साले के बच्चे को अपना समझ उसे उठाकर ले गया.

पुलिस ने भी नहीं की कार्रवाई

पीड़ित परिवार  थाना बिल्हौर पहुंचा और उसने घटना की पूरी जानकारी पुलिस को दी. इसी के साथ परिवार ने बहनोई देशराज की धमकी का भी जिक्र किया. परिवार के अनुसार बिल्हौर पुलिस ने सिर्फ कार्रवाई का भरोसा देकर उन्हें थाने से चलता कर दिया और मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई.

अहम बिंदु

शुक्रवार की सुबह मासूम 5 वर्षीय बच्चे का शव नदी में तैरता मिला. इस मामले में म़तक के माता-पिता का कहना है कि, हमारे बच्चे को हमारा बहनोई देशराज ही उठाकर ले गया है. उसने पहले ही कहा था कि मैं अपने बच्चे को मार डालूंगा क्योंकि वह मेरा बेटा नहीं है लेकिन धोखे से वह  मेरे बेटे को उठा ले गया या उसने किसी से उठवा लिया और उसने हत्या कर डाली.

पुलिस ने मामूस के शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. प्रारंभिक जांच के अनुसार मासूम की बेहरमी से हत्या की गई है. पीड़ित के माता-पिता ने आरोपी बहनोई देशराज पर एफआईआर दर्ज करवाई है.

"एक 5 महीने का मासूम बच्चा घर से गायब हो गया था.  परिजनों ने अपने बहनोई पर शक जताया था. उसकी आज गांव के पास ही नदी में लाश मिली है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है. परिजनों की शिकायत पर एफआईआर दर्ज करके कार्रवाई की जा रही है."

इस पूरे मामले पर एसीपी (बिल्हौर) आलोक सिंह ने बताया

कानपुर: अपने बेटे को मारना चाहता था पिता? गलती से साले के बेटे को उठा लिया, किया ये अंजाम
रिश्ता शर्मसार! कानपुर देहात: पिता ने नाबालिग बेटी के साथ की छेड़छाड़, मां ने लिखवाई FIR

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in