उत्तर प्रदेश पुलिस क्यों मनाती है झंडा दिवस? जानिए इसका ऐतिहासिक महत्त्व

उत्तर प्रदेश पुलिस क्यों मनाती है झंडा दिवस? जानिए इसका ऐतिहासिक महत्त्व
फोटो: यूपी पुलिस

Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश पुलिस के इतिहास में 23 नवंबर का दिन विशेष महत्व रखता है. दरअसल इन दिन यूपी पुलिस 'झंडा दिवस' मनाती है. आपको बता दें कि पुलिस झंडा दिवस के अवसर पर यूपी के डीजीपी डीएस चौहान ने मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ को पुलिस कलर (झंडा) लगाया और उन्हें प्रतीक चिह्न भी सौंपा.

समर्पण, संवेदनशीलता और सेवा की प्रतीक यूपी पुल‍िस: सीएम योगी

झंडा दिवस के मौके पर मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने बुधवार को ट्वीट कर प्रदेश की पुल‍िस को 'पुलिस झंडा दिवस' की शुभकामनाएं दीं. सीएम योगी ने कहा क‍ि 'उत्तर प्रदेश पुलिस के समस्त अनुशासित एवं कर्तव्यनिष्ठ कार्मिकों को 'पुलिस झंडा दिवस' की हार्दिक बधाई! समर्पण, संवेदनशीलता और सेवा की प्रतीक यूपी पुल‍िस पर हमें गर्व है. जय हिंद!'

23 नवंबर को क्यों मनाया जाता है झंडा दिवस?

अहम बिंदु

गौरतलब है कि यूपी पुलिस प्रथम राज्य पुलिस बल है, जिसे 23 नवम्बर, 1952 को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू द्वारा पुलिस ध्वज प्रदान किया गया था. 23 नवंबर को तत्कालीन पीएम नेहरू ने उत्तर प्रदेश पुलिस को पुलिस कलर व ध्वज प्रदान किया था. आपको बता दें कि यूपी पुलिस के ध्वज में ऊपर लाल रंग व नीचे नीला रंग है.

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक, "पुलिस ध्वज विभाग के गौरवशाली अतीत, स्वर्णिम भविष्य एवं जनसेवा के प्रति प्रतिबद्धता का जीवंत प्रतीक है."

आपको बताते चलें कि 23 नवंबर को ही पीएसी बल को भी ध्वज प्रदान किया गया था.

उत्तर प्रदेश पुलिस क्यों मनाती है झंडा दिवस? जानिए इसका ऐतिहासिक महत्त्व
विपक्ष पर जमकर बरसे CM योगी, बोले- 'परिवारवादियों और जातिवादियों को फिर मौका न दें'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in