सीएम योगी पर अखिलेश का पलटवार, कहा-‘BJP का जाना तय, इसलिए सरकार के मुखिया की भाषा बदली’

यूपी तक

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है.…

social share
google news

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है. अखिलेश ने 14 सितंबर को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीएम योगी आदित्यनाथ के ‘अब्बा जान’ वाले बयान का अप्रत्यक्ष रूप से जवाब देते हुए कहा, “बीजेपी का जाना तय है, इसलिए सरकार के मुखिया की भाषा बदल गई है.”

अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस की बड़ी बातें-

अखिलेश यादव ने कहा, “अभी तक ये सरकार नाम बदल रही थी, रंग बदल रही थी, सपा के काम पर अपना नाम लगा रही थी. अब तो दूसरे प्रदेशों के और दुनिया के दूसरे हिस्से से भी फोटो चुराकर अपना काम बताने में सरकार आगे बढ़ रही है.”

उन्होंने कहा, “दुनिया में जो विकास हुआ है, उनकी तस्वीरें लगाकर युवाओं ने सोशल मीडिया पर बीजेपी के सीएम को विकास दिखा दिया है.” उन्होंने आगे कहा कि इस सरकार के सीएम एक भी काम नहीं बता सकते हैं, जिसका शिलान्यास उन्होंने किया हो और उसी का उद्घाटन भी.”

एसपी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार को अपना चिह्न बुल्डोजर रख लेना चाहिए, इनकी सबसे बड़ी उपलब्धि है कि इनके पास बुल्डोजर है, जबकि सीएम आवास का भी नक्शा पास नहीं है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

योगी सरकार की बुल्डोजर कार्रवाई को लेकर अखिलेश यादव ने कहा, “जो अधिकारी चुपचाप कानून कागज पर घुमा रहे हैं उनकी लिस्ट सपा ने बनाई है. वे ये नहीं सोचें कि वह बच जाएंगे. 90 से 100 साल से जो रहे हैं उनके भी घर पर बुल्डोजर चला दिया गया है. ये कहां का कानून है, कहां से आपने जानकारी हासिल कर ली. अधिकारी सरकार के इशारे पर 4-5 महीने और काम कर लें.”

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि इनके पास अपने नेताओं को सम्मान देने के लिए कुछ भी नहीं है, समाजवादियों का काम चुराकर अपने नेताओं के नाम पर कर रहे हैं.

उन्होंने आगे कहा, “पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर एक यूनिवर्सिटी का 25 दिसंबर 2019 को प्रधानमंत्री जी ने शिलान्यास किया था. जो जगह ली गई थी इस यूनिवर्सिटी को बनाने के लिए वो वही थी जो सपा सरकार में मेडिकल यूनिवर्सिटी के लिए तय की गई थी, उसे कैंसल करके अपनी मेडिकल यूनिवर्सिटी बनाने का फैसला इस सरकार ने किया. आज इतना समय गुजरने के बाद भी ये सरकार वाजपेयी के नाम पर यूनिवर्सिटी नहीं बना पाई.”

अखिलेश यादव ने कहा कि इस सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया, सरकार ने कहा था कि किसानों की आय दोगुनी कर दी जाएगी, लेकिन आय नहीं बता रहे हैं, सरसों का तेल महंगा हो गया, इसके पीछे सरकार का तर्क है कि सरसों में मिलावट नहीं की गई.

ADVERTISEMENT

योगी सरकार के विज्ञापन पर यूपी से लेकर बंगाल तक ‘भिड़ंत’, BJP का विपक्ष पर पलटवार

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT