window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

Kanpur Tak: पिटबुल-रॉटवीलर कुत्तों के पालने पर लगा बैन, मालिकों ने जताया खुलकर विरोध

सिमर चावला

ADVERTISEMENT

कानपुर नगर निगम (Kanpur Municipal Corporation) हाउस ने मंगलवार को शहर में पिटबुल और रॉटवीलर नस्लों के कुत्ते पालने पर प्रतिबंध लगा दिया है. नगर…

social share
google news

कानपुर नगर निगम (Kanpur Municipal Corporation) हाउस ने मंगलवार को शहर में पिटबुल और रॉटवीलर नस्लों के कुत्ते पालने पर प्रतिबंध लगा दिया है. नगर निगम का कहना है कि दोनों नस्लों में से किसी को भी किसी व्यक्ति ने पाला तो उस पर 5,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा और उनके पालतू कुत्ते को जब्त कर लिया जाएगा.

कानपुर की मेयर प्रमिला पांडेय ने मंगलवार को बताया था कि नगर निगम हाउस में एक प्रस्ताव पारित कर शहर में पिटबुल और रॉटवीलर नस्लों के कुत्ते के पालन पर रोक लगा दिया गया है.

उन्होंने यह भी बताया था कि जिन लोगों के पास पिटबुल और रॉटवीलर नस्लों के कुत्ते हैं, उन्हें नगर निगम में एक एफिडेविट देना होगा.

नगर निगम के इस फैसले के बाद इन दो प्रजातियों के कुत्तों के मालिकों ने अपना विरोध जाहिर किया. कुत्तों के मालिकों ने नगर निगम कार्यालय पर पहुंच कर इस प्रस्ताव के खिलाफ कानपुर तक से बातचीत की.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पिटुबल कुत्ते के मालिक मनोज दुबे ने बताया कि मालिक ही पेट को खूंखार बनाता है और फ्रेंडली भी. मालिक पर ही निर्भर करता है कि वह कैसे अपने पालतू कुत्ते को समाज के हिसाब से ढालता है.

उन्होंने नगर निगम के इस प्रस्ताव का विरोध करते हुए कहा कि नगर निगम को यह प्रस्ताव वापस लेना चाहिए. हम लोग अपने पालतू को किसी को नहीं ले जाने देंगे.

वहीं कुत्ते के लिए काम करने वाले एक एनजीओ से जुड़े रॉनी तिवारी ने बताया कि कुत्ते का जैसे लालन-पालन किया जाएगा वो वैसा ही बनेगा. कुत्ते को एग्रेसिव और फ्रेंडली दोनों बनाने में कुत्ते मालिक का ही हाथ होता है.

ADVERTISEMENT

कानपुर तक से बातचीत में अन्य लोगों ने भी अपनी-अपनी राय रखी, जिसे ऊपर शेयर किए गए Kanpur Tak के वीडियो पर क्लिक कर देख सकते हैं.

कानपुर: पिटबुल और रॉटवीलर कुत्तों के पालने पर लगा प्रतिबंध, मालिकों पर ₹5 हजार का जुर्माना

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT