लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए किसान के गांव पहुंची सिंगर सोनिया मान, कहा- ‘मारी गई गोली’

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए बहराइच स्थित नबी नगर मोहरनिया गांव के रहने वाले गुरविंदर सिंह के परिजनों ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर सवाल खड़े करते हुए अंतिम संस्कार करने से इनकार दिया है. पिछले काफी समय से किसान आंदोलन से जुड़ी रहीं पंजाबी एक्ट्रेस और सिंगर सोनिया मान भी बहराइच पहुंच गई हैं. उन्होंने गुरविंदर सिंह की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट को गलत बताया है. इस रिपोर्ट में पढ़िए सोनिया मान और मृतक के पिता सुखविंदर सिंह ने क्या-क्या कहा.

सोनिया मान ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर खड़े किए सवाल,

“पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में गलत दिखाया है कि गोली नहीं लगी है. डेड बॉडी यहां पर पड़ी हुई है, हमने वीडियो भी बनाई है. कान की तरफ से गोली लगी है. गोली लगने की वजह से उनकी मृत्यु हुई है और यहां पर ये झूठी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट दिखाई गई है. बॉडी का दोबारा से पोस्टमॉर्टम होगा, तब तक बॉडी को यहां से अंतिम यात्रा के लिए नहीं भेजा जाएगा.”

सोनिया मान

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

सोनिया मान ने आरोप लगाया कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा उर्फ मोनू को बचाने के लिए झूठी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट बनाई गई है. उन्होंने कहा कि जब तक मोनू मिश्रा को जेल में बंद नहीं कर दिया जाता है, तब तक डेड बॉडी यहीं रखी रहेगी.

उन्होंने कहा कि जिन डॉक्टरों ने ये पोस्टमॉर्टम किया है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. सोनिया के मुताबिक, जहां पर संयुक्त किसान मोर्चा चाहेगा वहां पर गुरविंदर सिंह का दोबारा से पोस्टमॉर्टम करवाया जाएगा.

हम झूठ बोलकर यहां तक आएं हैं: सोनिया

सोनिया ने बताया, “हमें यहां तक (बहराइच) नहीं पहुंचने दिया जा रहा था, यह गुंडा गर्दी है. हमें कितनी जगह रोका गया, हम झूठ बोल-बोलकर यहां तक पहुंचे हैं. हम किस बात की सियासत करेंगे, हम तो कलाकार हैं. हम अपने किसान भाइयों के साथ खड़े रहेंगे, जब तक हमें इंसाफ नहीं मिलता.”

ADVERTISEMENT

मृतक गुरविंदर सिंह के पिता ने क्या कहा?

मृतक गुरविंदर सिंह के पिता सुखविंदर सिंह का आरोप है, “हमारे बेटे को गोली लगी है. टेनी के बेटे मोनू ने गोली मारी है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी इन्होंने गलत लिख दी है. हमें इंसाफ चाहिए.”

क्या है पूरा मामला?

यूपी के लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में रविवार को भारी हिंसा हुई. यूपी पुलिस के मुताबिक, इस हिंसा में कुल 8 लोगों की मौत हुई है. हिंसा की यह घटना तिकुनिया से 4 किलोमीटर दूर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के पैतृक गांव बनवीरपुर में आयोजित कुश्ती कार्यक्रम में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के पहुंचने से पहले हुई.

ADVERTISEMENT

संयुक्त किसान मोर्चा के मुताबिक, प्रदर्शनकारी किसान केशव प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम का शांतिपूर्ण तरीके से विरोध कर रहे थे. मोर्चा ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के गाड़ियों के काफिले ने किसानों को रौंदा और फायरिंग भी की गई. बताया जा रहा है कि यह काफिला डिप्टी सीएम को रिसीव करने के लिए आ रहा था.

इस मामले में आशीष मिश्रा ने दावा किया है कि घटना के वक्त वह काफिले की गाड़ियों में मौजूद नहीं थे. इसके साथ ही आशीष ने दावा किया है, ”हमारे कार्यकर्ता डिप्टी सीएम को रिसीव करने जा रहे थे, जैसे ही वो लोग तिकुनिया से निकले, तो अपने आप को किसान कहने वालों ने आक्रमण कर दिया.”

लखीमपुर खीरी हिंसा: ममता बनर्जी ने कहा- ‘यूपी रामराज्य नहीं बल्कि किलिंग राज्य हो चुका है’

follow whatsapp

ADVERTISEMENT