window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

PUBG वाले प्रेमी के लिए पाकिस्तान से किस रास्ते नोएडा पहुंच गई सीमा हैदर? यहां जानिए

अरुण त्यागी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Uttar Pradesh News: इश्क़ का खुमार पाकिस्तानी महिला पर ऐसा चढ़ा कि प्रेमी से मिलने वह अपने चार बच्चों के साथ बॉर्डर पार करते हुए यूपी के ग्रेटर नोएडा (Noida News) पहुंच गई. महिला एक महीने से ज्यादा समय से ग्रेटर नोएडा के रहने वाले सचिन के साथ रबूपुरा में रह रही थी. पुलिस ने पाकिस्तानी महिला को साथ गिरफ्तार कर लिया है, साथ ही युवक सचिन और उसके पिता को भी गिरफ्तार कर लिया है. अब बड़ा सवाल उठता है कि महिला, पाकिस्तान से अवैध तरीके से ग्रेटर नोएडा पहुंची कैसे? इस सवाल का जवाब खुद महिला ने दिया.

PUBG खेलते हुआ प्यार

दरअसल 4 बच्चों की मां सीमा हैदर को पब्जी खेलते-खेलते भारतीय युवक सचिन से प्यार हो गया था. पाकिस्तान के कराची की रहने वाली सीमा अपने प्रेमी सचिन से मिलने के लिए 1100 किलोमीटर दूर ग्रेटर नोएडा पहुंच गई. सीमा 13 मई को भारत पहुंची और सीधे ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा थाना इलाके में अपने प्रेमी सचिन के पास पहुंच गई. सचिन ने रबूपुरा इलाके के ही अंबेडकर गांव में एक कमरा किराए पर लिया और वहीं पर सीमा हैदर अपने चार बच्चों के साथ रहने लगी.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

ऐसे पाकिस्तान से नोएडा पहुंची महिला

जानकारी के मुताबिक, रबूपुरा कस्बे के रहने वाला सचिन किराने की दुकान पर काम करता था, वो पबजी खेलने का शौकीन था. इसी गेम के दौरान वो पाकिस्तान की रहने वाली सीमा हैदर के संपर्क में आया. दोनों के बीच चैट शुरू हो गई. देखते ही देखते दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे. सचिन से प्यार के बाद उसने भारत आने का मन बना लिया. उसे पता चला कि नेपाल के रास्ते वह हिंदुस्तान बड़ी आसानी से दाखिल हो सकती है. सीमा मार्च महीने में कराची से निकली और फिर वह नेपाल के काठमांडू पहुंची. नेपाल के पोखरा से वह बस लेकर दिल्ली पहुंच गई. 13 मई को सीमा गौतम बुध नगर के रबूपुरा इलाके में पहुंच गई जहां सचिन रहता था.

पुलिस ने किया ये खुलासा

वहीं इस मामले में डिसीपी साद मियां खान ने जानकारी देते हुए बताया कि, ‘जानकारी मिली थी कि एक पाकिस्तानी मूल की महिला रबूपुरा में रह रही है. पुलिस जब मौके पर पहुंची तबतक महिला फरार हो गई थी. जांच के बाद पता चला कि महिला सचिन नाम के युवक के साथ रहती थी. पुलिस ने ट्रेस कर महिला को उसके चार बच्चों के साथ गिरफ्तार कर लिया. सचिन और उसके पिता नेत्रपाल को भी गिरफ्तार किया गया है. पूछताछ में पता चला है कि महिला पबजी गेम के जरिए सचिन के संपर्क में आई थी. वो भारत नेपाल के रास्ते आई थी. सचिन से शादी करना चाहती है. एलआईयू और सेंट्रल एंजेसियों को सूचना दी गई है जो जांच कर रहे है, महिला के भाई पाकिस्तानी आर्मी में है इस बात की भी जांच की जा रही है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT