जलवायु परिवर्तन से UP के 27 जिलों की सेहत को नुकसान! रोकने के लिए उठाए जा रहे ये कदम

UP News in Hindi
जलवायु परिवर्तन से UP के 27 जिलों की सेहत को नुकसान! रोकने के लिए उठाए जा रहे ये कदम
सांकेतिक तस्वीर.फोटो: मंदार देवधर

बुंदेलखंड में जलवायु परिवर्तन (Climate Change) तेजी से हो रहा हैै. सरकार के सर्वे में प्रदेश में चिह्नित किए गए 27 जिलों में बुंदेलखंड के 6 जिले शामिल हैं. प्रदेश सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने इन जिलों के प्रशासन, वन और पंचायती राज विभागों निर्देश जारी किए हैं. बता दें कि भविष्य में जलवायु परिवर्तन रोकने के लिए इन चिह्नित जिलों की एक-एक ग्राम पंचायत को ‘जलवायु मित्र’ ग्राम पंचायत के रूप में चुनकर इन्हें क्लाइमेट स्मार्ट ग्राम पंचायत के तौर पर विकसित करने की तैयार है.

जलवायु परिवर्तन से बुंदेलखंड भी अछूता नहीं है. इसका खुलासा प्रदेश सरकार के पर्यावरण एवं वन तथा जलवायु परिवर्तन विभाग के पत्र से हुआ है. विभाग के सचिव ने इन सभी 27 जिलों के डीएम, प्रभागीय वनाधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी को 21 मई को जारी पत्र में कहा कि 'जलवायु परिवर्तन की दृष्टि से संवेदनशीलता ज्ञात किए जाने के लिए एक अध्ययन किया गया है, जिसमें यूपी के 27 जिले अति संवेदनशील पाए गए हैं. भविष्य के अनुमान के आधार पर पूरे उत्तर प्रदेश में जलवायु परिवर्तन की संवेदनशीलता में वृद्धि अनुमानित हैं.'

पत्र में आगे कहा गया कि 'इसमें कृषि, जल संसाधन, स्वास्थ्य, अपशिष्ट प्रबंधन, वैकल्पिक ऊर्जा, जलवायु आपदा प्रबंधन आदि क्षेत्रों में जलवायु परिवर्तन अनुकूलन संबंधी कामों को और तेज करने की जरूरत है. इसके दुष्प्रभावों को कम करने में ग्राम पंचायतों की अग्रणी भूमिका होगी.'

यूपी के ये जिले किए गए चिह्नित

बांदा के डीएम अनुराग पटेल ने डीपीआरओ को पत्र जारी कर जिले की पांच ग्राम पंचायतों को जलवायु मित्र ग्राम पंचायत के रूप में चयनित करने के निर्देश दिए हैं. उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड के बांदा, चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, ललितपुर और झांसी के अलावा अन्य जिलों में फर्रुखाबाद, उन्नाव, औरैया, हरदोई, कन्नौज, रायबरेली, सिद्धार्थ नगर, बहराइच, श्रावस्ती, गोंडा, संत रविदास नगर, सुल्तानपुर, संत कबीर नगर, अमेठी, चंदौली, मुरादाबाद आदि शामिल हैं.

जलवायु परिवर्तन रोकने संबंधी उत्कृष्ट कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को चिह्नित करने के लिए प्रदेश सरकार ‘जलवायु मित्र ग्राम पंचायत प्रतियोगिता-2022’ आयोजित करेगी. सभी चिह्नित जिलों से एक-एक ग्राम पंचायतों को चयनित किया जाएगा. इन ग्राम पंचायत को ‘क्लाइमेट स्मार्ट’ के रूप में विकसित किया जाएगा. यह प्रतियोगिता ऑनलाइन के माध्यम से कराई जाएगी, जिसमें ग्राम पंचायतों द्वारा ऑनलाइन आवदेन भरे जाएंगे, जिसकी लिंक https://upccce.org/csv/ है.

सांकेतिक तस्वीर.
बांदा: लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म का आरोप, पुलिस जांच में जुटी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in